बीच टूर्नामेंट में BCCI का नया फरमान, अब हर IPL फ्रेंचाइजी को करना होगा ये

इंडियन प्रीमियर लीग में अब तक 31 मुकाबले खेले जा चुके हैं. ऐसे में बीसीसीआई ने अब फ्रेंचाइजी को नया फरमान सुनाया है जिसमें भारतीय खिलाड़ियों से जुड़ी बात कही गई है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 5:00 pm, Fri, 16 October 20

बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया (BCCI) ने आईपीएल 2020 में भाग लेने वाली फ्रेंचाइजी से अनुबंधित भारतीय खिलाड़ियों द्वारा तुरंत किसी भी चोट के बारे में सूचित करने के लिए कहा है. मुंबई मिरर के एक रिपोर्ट के अनुसार अब हर फ्रेंचाइजी कॉन्ट्रैक्ट आधारित भारतीय खिलाडियों के चोट को लेकर बोर्ड को इसकी जानकारी देनी होगी. आईपीएल के सीओओ और बीसीसीआई के कार्यवाहक सीईओ हेमंग अमीन ने फ्रेंचाइजी को एक मेल भेजा है जिसमें उनसे भारतीय टीम के प्रमुख फिजियो नितिन पटेल में सूचित करने के लिए कहा गया है.

फ्रेंचाइजी को देनी होगी अब ये जानकारी

ई-मेल में एक खिलाड़ी के बारे में कोई विशेष उल्लेख नहीं था, लेकिन यह समझा जा रहा है कि यह कदम क्रिकेट बोर्ड ने टीम इंडिया के वरिष्ठ तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के चोटिल होने के बाद उठाया है. मीडिया रिपोर्ट्स से पता चला है कि दिल्ली फ्रेंचाइजी ने इशांत की चोट को लेकर कोई जानकारी नहीं दी थी कि उन्हें किस तरह का चोट लगा है.

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाजी यूनिट को एक बड़ा झटका लगा है क्योंकि सनराइजर्स हैदराबाद के भुवनेश्वर कुमार और दिल्ली कैपिटल्स के ईशांत शर्मा को चोट के चलते टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया है.

भुवनेश्वर कुमार को जहां फाइनल ओवर में रन अप के दौरान चोट लगी थी तो वहीं इशांत शर्मा को टूर्नामेंट के दौरान ही पसलियों में चोट लग गई थी. तेज गेंदबाज दिल्ली के लिए सिर्फ एक ही मैच खेल पाया था. बता दें कि इस आईपीएल में अमित मिश्रा और मिचेल मार्श भी चोटिल होकर टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)