IPL 2020: क्या सीजन-13 में बदलने वाली है दिल्ली कैपिटल्स की किस्मत?

श्रेयष के पास युवाओं के जोश से लेकर अनुभव की ‘डोज’ तक सब मौजूद हैं. लेकिन पिछले सीजन में इस टीम के युवा खिलाड़ी सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरते नजर आएं हैं, चाहे फिर बात ऋषभ पंत की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी पर स्टेडियम में बजती सीटी की हो या फिर कगिसो रबाडा की रफ्तार के कहर की.

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने वाली दिल्ली कैपिटल्स एक बार फिर मैदान पर उतरने के लिए तैयार है. युवा कप्तान श्रेयष अय्यर के पास दिल्ली को चैंपियन बनाने का लक्ष्य है. पिछले साल दिल्ली के शानदार प्रदर्शन ने फ्रैंचाइजी से लेकर फैंस का भरोसा जीता था. इस बार बारी खिताब जीतने की है.

श्रेयष के पास युवाओं के जोश से लेकर अनुभव की ‘डोज’ तक सब मौजूद हैं. लेकिन पिछले सीजन में इस टीम के युवा खिलाड़ी सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरते नजर आएं हैं, चाहे फिर बात ऋषभ पंत की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी पर स्टेडियम में बजती सीटी की हो या फिर कगिसो रबाडा की रफ्तार के कहर की.

दिल्ली में हैं जोशीले जांबाज

दिल्ली कैपिटल्स पहले दिल्ली डेयरडेविल्स के नाम से जानी जाती थी, 2012 के बाद लगातार 6 साल वो एक बार भी टॉप-4 में नहीं पहुंच पाई थी. दिल्ली का प्रदर्शन सीजन दर सीजन फैंस को निराश कर रहा था. फ्रैंचाइजी ने भी कई तरह के एक्सपेरिमेंट किए. कई खिलाड़ियों को बड़े दामों में खरीदा गया लेकिन नतीजा ज्यों का त्यों रहा. 2018 में दिल्ली ने 23 साल के युवा श्रेयष अय्यर पर दांव लगाया और उन्हें कप्तान बना दिया.

2019 में इसी कप्तान ने दिल्ली को 6 साल बाद प्लेऑफ में पहुंचा दिया. ये टीम अपने युवा खिलाड़ियों को मौका भी देती है और उन पर भरोसा भी करती है. इस टीम के टॉप युवा खिलाड़ियों पर नजर डालें तो कप्तान श्रेयष अय्यर के अलावा ऋषभ पंत, पृथ्वी शॉ और कगिसो रबाडा मैच विनर खिलाड़ियों में शामिल है.

दिल्ली की टीम के तीन बल्लेबाज सीजन-12 के टॉप-10 बल्लेबाजों की फेहरिस्त में शामिल थे. इसमें शिखर धवन के अलावा ऋषभ पंत और श्रेयष अय्यर का नाम शामिल था. गेंदबाजों की बात करें तो 2019 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले चेन्नई के इमरान ताहिर से दिल्ली के रबाडा सिर्फ एक विकेट से पीछे थे. रबाडा ने 25 विकेट झटके थे.

युवा खिलाड़ियों पर दिल्ली ने की करोड़ों की बरसात

युवा खिलाड़ियों पर भरोसा ही नहीं बल्कि दिल्ली कैपिटल्स इनपर करोड़ों रुपए खर्च करने में भी काफी आगे है. इस साल दिल्ली के सबसे महंगे खिलाड़ी हैं ऋषभ पंत, जिन्हें 15.5 करोड़ रुपए में रिटेन किया गया है. वहीं 23 साल के शिमरॉन हेटमेयर को RCB से 7.75 करोड़ में अपनी टीम में शामिल किया है. हेटमेयर दिल्ली के दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी हैं.

कप्तान अय्यर को भी सात करोड़ में रिटेन किया है. जबकि शिखर धवन और इशांत शर्मा को इनसे कम रुपए में रिटेन किया गया. दिल्ली कैपिटल्स के पास इस वक्त जीत के लिए जरूरी हर हथियार मौजूद हैं. देखना होगा कि अय्यर किस तरह अपने हथियारों को दुश्मन के खिलाफ आजमा कर मैदान मारते हैं.

Related Posts