अनुष्का विवाद पर गावस्कर ने दी सफाई, कहा- कभी उन्हें दोष नहीं दिया

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) के बयान को लेकर लगातार सोशल मीडिया पर बवाल मचा हुआ है और कई यूजर्स ने उनके बयान को गलत बताते हुए बीसीसीआई (BCCI) से उन्हें कॉमेंट्री पैनल से हटाने की मांग तक कर डाली.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:30 pm, Fri, 25 September 20

विराट कोहली (Virat Kohli) और अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) को लेकर अपनी एक टिप्पणी के कारण विवादों में आए पूर्व क्रिकेटर और कॉमेंटेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने अपना बचाव किया है. गावस्कर ने कहा है कि उन्होंने विराट के प्रदर्शन के लिए किसी भी रूप में अनुष्का को दोषी नहीं ठहराया. गावस्कर ने साथ ही उन आरोपों को भी गलत बताया कि उन्होंने अनुष्का को लेकर किसी भी तरह का लिंगभेदी (सेक्सिट) बयान नहीं दिया था.

किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच गुरुवार 24 सितंबर को हुए IPL 2020 के छठें मैच के दौरान गावस्कर हिंदी में कॉमेंट्री कर रहे थे, इस दौरान बैंगलोर का दूसरा विकेट गिरने के बाद कप्तान कोहली क्रीज पर आए थे.

ये भी पढ़ेंः IPL 2020: विराट पर विवादित बयान के बाद अनुष्का शर्मा ने सुनील गावस्कर को घेरा

कोहली की बैटिंग के दौरान गावस्कर ने कहा था, “वो (विराट) जानते हैं कि प्रैक्टिस से ही वो बेहतर बन सकते हैं. जब लॉकडाउन था तो सिर्फ अनुष्का की बॉलिंग की प्रैक्टिस की उन्होंने. वो वीडियो देखी हमने.”

वीडियो में जो दिखा, सिर्फ वही कहाः गावस्कर

गावस्कर के इस बयान को गलत अर्थों में पेश कर ट्विटर पर उनकी जमकर आलोचना की जा रही है. यहां तक कि अनुष्का शर्मा ने भी इस बयान पर नाराजगी जाहिर की.
हालांकि, अब महान बल्लेबाज गावस्कर ने खुद इस पर अपनी सफाई रखी. गावस्कर ने इंडिया टुडे से बात करते हुए खुद पर लग रहे आरोपों को गलत बताया.

गावस्कर ने कहा, “सबसे पहले मैं ये जानना चाहूंगा कि मैंने कब उन्हें (अनुष्का को) दोष दिया? मैं उन्हें दोष नहीं दे रहा हूं. मैं सिर्फ ये कह रहा हूं कि वीडियों में दिख रहा है कि वह विराट को गेंदबाजी कर रही हैं. विराट ने लॉकडाउन के दौरान सिर्फ इतनी ही प्रैक्टिस की.”

गावस्कर ने अपने बयान के बारे में बताते हुए कहा कि वह और उनके साथी कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा सिर्फ इस बारे में बात कर रहे थे कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी खिलाड़ी ने ज्यादा प्रैक्टिस नहीं की. उन्होंने कहा कि इस बातचीत में विराट और अनुष्का के क्रिकेट खेलने वाले वीडियो का जिक्र आया था और उन्होंने किसी भी और तरह की बात नहीं की.

ये भी पढ़ेंः RCB vs KXIP: विराट ने दिया ऐसा परफॉर्मेंस की अनुष्का हो गईं ट्रोल, जानें क्या है माजरा

‘हमेशा क्रिकेटरों की पत्नियों का समर्थन किया’

लिटिल मास्टर गावस्कर ने साथ ही इस आरोप को भी गलत बताया कि उन्होंने किसी तरह का सेक्सिस्ट कॉमेंट किया था. गावस्कर ने कहा, “मैंने हमेशा इस बात का समर्थन किया कि क्रिकेटरों के विदेश दौरे के वक्त उनकी पत्नियों को भी साथ आने देना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि वह कभी भी सेक्सिस्ट नहीं रहे और अगर किसी ने उनके बयान को गलत तरीके से समझकर पेश किया, तो इसमें वह कुछ नहीं कर सकते.

गावस्कर के बयान को लेकर लगातार सोशल मीडिया पर बवाल मचा हुआ है और कई यूजर्स ने उनके बयान को गलत बताते हुए बीसीसीआई से उन्हें कॉमेंट्री पैनल से हटाने की मांग तक कर डाली. हालांकि, कई यूजर्स ने गावस्कर का समर्थन भी किया और कहा कि लोगों ने उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया और गावस्कर ने ने कुछ भी गलत नहीं कहा.

ये भी पढ़ेंः IPL 2020: विराट-अनुष्का पर गावस्कर के किस कॉमेंट से मचा बवाल, क्या है उसकी सच्चाई?

 

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम’)