Jharkhand: पूर्वी सिंहभूम में Coronavirus संक्रमण से सबसे ज्यादा मौत

झारखंड (Jharkhand) में छह ऐसे जिले हैं, जहां पॉजिटिव मामलों का प्रतिशत रांची से ज्यादा है. सरकार की जारी लिस्ट के मुताबिक, पूर्वी सिंहभूम (East Singhbhum) जो कोरोना मरीजों की मौत के मामले में पहले नंबर पर है.
coronavirus in jharkhand east singhbhum, Jharkhand: पूर्वी सिंहभूम में Coronavirus संक्रमण से सबसे ज्यादा मौत

झारखंड (Jharkhand) में भी पड़ोसी राज्य बिहार की तरह कोरोनावायरस (Coronavirus) पॉजिटिव मामलों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि दर्ज की जा रही है. इस बीच कोरोना मरीजों की मौत का भी सिलसिला जारी है. राज्य में रांची जिले (Ranchi) में भले ही संक्रमितों की संख्या सबसे ज्यादा हो, लेकिन मरीजों की मौत के मामले में पूर्वी सिंहभूम (East Singhbhum) सबसे आगे बना हुआ है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

झारखंड सरकार के जारी बुलेटिन को देखा जाए तो राज्य के रांची जिले में जहां अब तक कुल 3,563 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं, वहीं अब तक 29 मरीजों की मौत हो चुकी है. इधर, पूर्वी सिंहभूम में अब तक पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,792 है जबकि यहां 60 मरीजों की मौत हो चुकी है.

पूर्वी सिंहभूम में मौत के मामले दोगुने से ज्यादा

जारी आंकड़ों के मुताबिक, रांची में कोरोना मरीजों की मौत का प्रतिशत जहां 0.86 है, जबकि पूर्वी सिंहभूम में यह प्रतिशत 2.18 प्रतिशत है. इस तरह देखा जाए तो रांची से पूर्वी सिंहभूम में संक्रमितों की मौत के मामले दोगुने से भी ज्यादा हैं.

आंकड़ों पर गौर करें तो राज्य में छह ऐसे जिले हैं, जहां पॉजिटिव मामलों का प्रतिशत रांची से ज्यादा है. सरकार की जारी लिस्ट के मुताबिक, पूर्वी सिंहभूम जो कोरोना मरीजों की मौत के मामले में पहले नंबर पर है, वहीं उसके बाद धनबाद और हजारीबाग का नंबर आता है.

राज्य में कोरोना मामलों के हालात

धनबाद (Dhanbad) में संक्रमण के अब तक 1,004 मामले आए हैं, जबकि यहां 19 मरीजों की मौत हो चुकी है. इसी तरह हजारीबाग में पॉजिटिव मामलों की संख्या 864 है, जबकि यहां अब तक 13 मरीजों की मौत हो चुकी है. बता दें कि झारखंड में अब तक 18,138 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें 8,838 मरीज इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं. राज्य में अब तक कुल 177 मरीजों की मौत हो चुकी है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts