झारखंड: एक ही सीट से पति-पत्नी लड़ रहे विधानसभा चुनाव, साथ-साथ मांग रहे वोट

चुनाव आयोग को दिए गए ऐफिडेविट के मुताबिक, प्रियंका और मनीष दोनों के ही खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है. बुधवार को दोनों ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल किया है.

झारखंड विधानसभा चुनाव में एक दंपती की काफी चर्चा हो रही है. भवनाथपुर विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में पति-पत्नी (मनीष कुमार-प्रियंका सिंह) दोनों चुनाव के मैदान में आमने-सामने हैं. गौर करने वाली बात है कि दोनों जन नामांकन के लिए भी एक ही गाड़ी से गए थे और चुनाव प्रचार भी साथ ही कर रहे हैं.’

एक ही सीट से चुनाव लड़ने के बारे में पति-पत्नी का कहना है कि कोई राजनीतिक मतभेद नहीं बल्कि यह लोकतांत्रिक अधिकार है. चुनाव आयोग को दिए गए ऐफिडेविट के मुताबिक, प्रियंका और मनीष दोनों के ही खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है.

दोनों के पास कुल मिलाकर संपत्ति के नाम पर लगभग आठ लाख रुपये नकद और लगभग चार लाख रुपये के गहने हैं. इसके अलावा दोनों के पास पैतृक संपत्ति के रूप में मिली खेती और गैर खेती योग्य जमीन भी है. प्रियंका जहां बीएड डिग्री धारक हैं, वहीं मनीष भी ग्रैजुएट हैं. दोनों ने आय के साधन के रूप में कृषि और निजी व्यवसाय को बताया है.

मनीष और प्रियंका का कहना है कि ”हम दोनों एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ जरूर रहे हैं लेकिन एक-दूसरे को हराने के लिए नहीं. हम दोनों साथ ही चुनाव प्रचार कर रहे हैं और जनता की सेवा के लिए वोट मांग रहे हैं”

झरिया में आमने-सामने दो बहुएं

धनबाद की झरिया विधानसभा सीट पर बाहुबली सूरजदेव सिंह का वर्चस्व रहा है. वर्तमान में बीजेपी के टिकट पर संजीव सिंह यहां के विधायक हैं. संजीव अपने चचेरे भाई नीरज सिंह की हत्या के आरोप में जेल में बंद हैं. बीजेपी ने उनकी पत्नी रागिनी सिंह को टिकट दिया है. वहीं, कांग्रेस ने नीरज सिंह की पत्नी पूर्णिमा सिंह को मैदान में उतारा है.

यानि धनबाद के चुनावी महासमर में देवरानी और जेठानी आमने-सामने होंगी. रोचक यह कि बुधवार को अदालत ने संजीव को भी जेल से चुनाव लडऩे की इजाजत दे दी है. ऐसे में संभव है कि वह खुद बीजेपी से मैदान में आ जाएं. जो भी हो रिश्तों की टकराहट का प्लॉट तो बुना जा चुका है.

ये भी पढ़ें-

झारखंड: कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी, प्रियंका गांधी का नाम गायब

ममता सरकार ने नहीं दिया चॉपर, सड़क से 600KM दूर मुर्शिदाबाद जाएंगे गवर्नर, पत्‍नी भी होंगी साथ