झारखंड: राजभवन और सीएम आवास की गायों को चारे के लाले, जानिए वजह

राज्यपाल के आवास में कामधेनु गौशाला, जिसमें आठ दूध देने वाले पशु हैं, मुख्यमंत्री आवास के गौशाला में चार है, जबकि इसके प्रशिक्षण केंद्र में 50 पशु हैं.

रांची: झारखंड के राजभवन और मुख्यमंत्री आवास की गायों के लिए चारे के लाले पड़ गए हैं क्योंकि उनके चारे के लिए कोई धनराशि आवंटित नहीं की गई है, जिसके कारण आपूर्तिकर्ता ने भुगतान न किए जाने के चलते अब चारा देने में असमर्थता जताई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

राजभवन और मुख्यमंत्री आवास में दुधारू पशुओं का प्रबंधन गव्य निदेशालय द्वारा किया जाता है, जिन्हें वर्तमान वित्त वर्ष के लिए कोई राशिआवंटन नहीं की गई है.

एक अधिकारी ने बताया कि निकाय के अंतर्गत तीन ‘गौशालाएं’ हैं. राज्यपाल के आवास में कामधेनु गौशाला, जिसमें आठ दूध देने वाले पशु हैं, मुख्यमंत्री आवास के गौशाला में चार है, जबकि इसके प्रशिक्षण केंद्र में 50 पशु हैं.

उन्होंने कहा कि इन पशुओं को हर रोज उचित आहार दिए जाने की जरूरत है, उन्होंने यह भी बताया कि राजभवन की एक गाय बीमार हो गई थी और उसे इलाज के लिए प्रशिक्षण केंद्र लाया गया है.

डेयरी के निदेशक कृष्ण मुरारी ने कहा कि निदेशालय धनराशि की मंजूरी के लिए प्रयास कर रहा है और उम्मीद है कि इस मुद्दे को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें

कार सवारों ने कहा, बोलो ‘जय श्री राम’, ठेले वाले ने सुना दी रामायण की चौपाई

‘चोरी के शक में भीड़ ने पीटा, फिर लगवाए जय श्री राम के नारे, जेल में मर गया तबरेज’