Covid-19 के सक्रिय मामलों में गिरावट, पहली बार भारत की ‘R’ वैल्यू एक से कम

भारत में एक दिन में कोविड-19 (Coronavirus) के 86,052 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 58,18,570 हो गए.

भारत में एक दिन में कोविड-19 (Coronavirus) के 86,052 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 58,18,570 हो गए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के मुताबिक भारत में कोविड-19 से उबरने वाले मरीजों की कुल संख्या बढ़ कर 47.5 लाख से अधिक हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटे में 1,141 और लोगों की मौत के बाद महामारी से मरने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 92,290 पहुंच गई.

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोरोनोवायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के बाद पहली बार भारत की आर वैल्यू (संक्रमण के प्रसार की दर या कोरोना की प्रजनन दर रिप्रोडक्शन नंबर- R Value) एक से नीचे आ गयी है, पिछले सप्ताह यह 1.08 से 0.93 हो गई है.

चेन्नई में गणितीय विज्ञान संस्थान के शोधकर्ता, सीताभरा सिन्हा के अनुसार भारत में इस वक्त आर-वैल्यू 0.93 पर है. यानी देश में 100 लोग सिर्फ 93 लोगों को ही कोरोना फैला रहे हैं. जिन राज्यों में आर-वैल्यू तेजी से घट रही है, उनमें कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य सबसे ऊपर हैं. सबसे अधिक प्रभावित राज्य जिनमें महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक शामिल हैं. इन राज्यों ने भी एक से कम आर वैल्यू को दर्ज किया है.

चेन्नई गणितीय विज्ञान संस्थान के मुताबिक, पूरी महामारी के दौरान भारत की आर वैल्यू के रुझान महाराष्ट्र के समान रहे हैं. इस सप्ताह, राज्य की आर वैल्यू पिछले सप्ताह के 1.17 से घटकर 0.86 हो गयी है.वर्तमान में इसके सक्रिय मामलों की संख्या सबसे अधिक है.

राज्यों  में कोरोना की आर वैल्यू

जिन राज्यों में आर-वैल्यू तेजी से घट रही है, उनमें कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य सबसे ऊपर हैं. महाराष्ट्र में 17 सितंबर को कोरोना के सबसे ज्यादा 3 लाख से ज्यादा एक्टिव केस थे, लेकिन अब इनकी संख्या 2.73 लाख तक नीचे आ गई है.

वहीं महाराष्ट्र में आर-वैल्यू भी 0.86 है. इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 9 सितंबर को सबसे ज्यादा 1 लाख एक्टिव केस थे, मगर अब यहां 70 हजार एक्टिव केस ही हैं. आंध्रप्रदेश में भी आर-वैल्यू 0.80 पर आ गई है. पिछले दो हफ्तों में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य- महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में कोरोना के नए केसों से ज्यादा रिकवरी हो रही है. राज्यों में एक्टिव केसों की संख्या घट रही है. आंध्र प्रदेश में तो एक्टिव केसों की संख्या 10 फीसदी तक आ चुकी है.

देश के महानगरों में कोरोना की आर वैल्यू

चेन्नई में गणितीय विज्ञान संस्थान की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली की आर वैल्यू पिछले हफ्ते 1.26 थी. इस सप्ताह यह सिर्फ 1 से अधिक है. चेन्नई और कोलकाता में भी आर वैल्यू एक के बहुत करीब है. पिछले सप्ताह यह क्रमशः 0.9 और 1.03 थी.

मुंबई, पुणे और बेंगलुरु में इस सप्ताह आर वैल्यू को एक से नीचे रही. पिछले सप्ताह, मुंबई की आर वैल्यू लगभग 1.09 थी, जो इस सप्ताह घटकर 0.67 रह गई. वहीं इस बीच पुणे में पिछले सप्ताह 1.14 से इस सप्ताह 0.56 पर आ गई. इस सप्ताह बेंगलुरु की आर वैल्यू 1.09 से घटकर 0.93 हो गई.

हालांकि, कुछ राज्य अभी भी आर वैल्यू में अभी ऊपर ही हैं. कोरोना से निपटने में मॉडल राज्य केरल की आर वैल्यू 1.20 है. पिछले सप्ताह यह लगभग 1.07 थी.

क्या होती है R-वैल्यू

आर-वैल्यू वह संख्या है, जितने लोगों को एक कोरोना पीड़ित व्यक्ति औसतन संक्रमित कर सकता है. यानी अगर आर-वैल्यू एक के ऊपर है, तो इसका मतलब कोई व्यक्ति एक से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर सकता है. जबकि अगर यह आर वैल्यू एक से नीचे है, तो इसका मतलब है कि कोई व्यक्ति कम से कम लोगों को संक्रमित कर सकता है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शुक्रवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार एक दिन में कोविड-19 के 86,052 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 58,18,570 हो गए. वहीं पिछले 24 घंटे में 1,141 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 92,290 हो गई.

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार मृतकों में सर्वाधिक 34,345 मरीज महाराष्ट्र से थे। वहीं, तमिलनाडु में 9,076, कर्नाटक में 8,331, आंध्र प्रदेश में 5,558, उत्तर प्रदेश में 5,366, दिल्ली में 5,123, पश्चिम बंगाल में 4,606, गुजरात में 3,381, पंजाब में 3,066 और मध्य प्रदेश में अब तक 2,122 मरीजों की मौत हुई है.

Related Posts