चुनाव प्रचार के बीच अचानक OBC कार्यकर्ता के घर पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह, खाना भी खाया

यमुना विहार में अपनी अंतिम नुक्कड़ सभा को संबोधित करने के बाद अमित शाह भाजपा के सामान्य कार्यकता के घर भोजन करने पहुंच गए. उनके साथ दिल्ली भाजपा प्रेसिडेंट मनोज तिवारी भी थे.

नई दिल्ली: दिल्ली में विधानसभा चुनाव प्रचार के बाद गृह मंत्री अमित शाह का एक अलग अंदाज ही दिखा. दिल्ली में शुक्रवार को तीन चुनावी सभाओं को संबोधित कर अमित शाह देर शाम पहुंचे यमुना विहार. यहां उन्होंने ओबीसी बीजेपी के पार्टी कार्यकर्ता के घर खाना खाया.

यमुना विहार में अपनी अंतिम नुक्कड़ सभा को संबोधित करने के बाद अमित शाह भाजपा के सामान्य कार्यकता के घर भोजन करने पहुंच गए. उनके साथ दिल्ली भाजपा प्रेसिडेंट मनोज तिवारी भी थे.

अमित शाह को भोजन में दाल, रोटी और सब्जी परोसी गई. रात्रि भोजन का कार्यक्रम यमुना विहार के भाजपा प्रेसिडेंट के घर पर हुआ. यमुना विहार के एक भाजपा नेता के मुताबिक रात्रि भोजन का कार्यक्रम अंतिम समय में तय किया गया. इस दौरान अमित शाह और मनोज तिवारी के अलावा सिर्फ दो और नेता घर के अंदर मौजूद थे.

गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष रहने के दौरान अमित शाह पार्टी के सामान्य कार्यकर्ता के घर भोजन करते रहे हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जब अमित शाह को यूपी का प्रभारी का दायित्व सौंपा गया था, उस दौरान अमित शाह हर दिन कार्यकर्ताओं के घर भोजन करते रहे थे. इस दौरान अमित शाह के इस नजरिये को काफी सराहा गया था.

हालांकि भाजपा और संघ में यह परंपरा पुरानी रही है. लेकिन दिल्ली चुनाव प्रचार के दौरान अमित शाह का आम कार्यकता के घर भोजन करने पहुंचना किसी अचंभे से कम नहीं है. माना जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह के इस कदम से जहां बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच उत्साह का संचार होगा, वहीं उनको जीत का मूल मंत्र मिल पाएगा.