धोनी का वो चेला जो विराट कोहली को आईपीएल का चैंपियन बनवा देगा!

ऐसा लगता है कि वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने आईपीएल 2020 (IPL 2020) में आरसीबी (RCB) के लिए बॉलिंग में रन न देने की कसम खा रखी है.

विराट कोहली की आरसीबी इस बार आईपीएल में बढ़िया खेल रही है.

वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar). तमिलनाडु के क्रिकेटर हैं लेकिन आईपीएल 2020 (IPL 2020) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के लिए खेलते हैं. आरसीबी ने इस साल बढ़िया क्रिकेट खेला है. इसके चलते वह अंक तालिका में तीसरे नंबर पर है. एबी डिविलियर्स, विराट कोहली, देवदत्त पड्डीकल जैसे की खिलाड़ियों को इसका श्रेय दिया जाता है. लेकिन सुंदर का योगदान भी किसी से कम नहीं है.

रन देने में कंजूस हैं सुंदर

इस सीजन में सुंदर ने अपनी गेंदबाजी से बल्लेबाजों का सिरदर्द बढ़ा रखा है. उनके नाम सात मैचों में केवल पांच विकेट हैं. लेकिन सुंदर का असली करिश्मा उनके गेंदबाजी आंकड़ों को गहराई से देखने पर पता चलता है. अभी तक उन्होंने केवल 4.90 की इकनॉमी से रन दिए हैं. यानी हर ओवर में पांच से भी कम रन. टी20 क्रिकेट में इस तरह की कंजूसी मोतियों के मोल के बराबर होती है.

विराट कोहली के लिए सुंदर ने आईपीएल 2020 में किफायती गेंदबाजी की है.

पावरप्ले में कर देते हैं बल्लेबाजों को ऑफ

एक और बात, सुंदर ने अपने अधिकांश ओवर पावरप्ले में किए हैं. जिस समय केवल दो फील्डर 30 गज के घेरे से बाहर होते हैं और बल्लेबाज ताबड़तोड़ बैटिंग का लाइसेंस लेकर आते हैं. ऐसे समय में सुंदर की किफायती बॉलिंग किसी भी कप्तान के लिए खजाने से कम नहीं होती. उन्होंने अभी तक 51 डॉट बॉल डाली. यानी लगभग नौ ओवर में कोई रन नहीं दिया.

उनकी बॉलिंग की काबिलियत को इस उदाहरण से समझिए. आरसीबी ने शारजाह में मुंबई इंडियंस से मुकाबला खेला. मैच में दोनों टीमों ने मिलकर 400 से ज्यादा रन बनाए. इस मैच में सुंदर ने चार ओवर के अपने स्पैल में महज 12 रन दिए और एक विकेट चटकाया.

एमएस धोनी के साथ वॉशिंगटन सुंदर.

सुंदर के करियर में धोनी का हिस्सा

21 साल के सुंदर ने साल 2017 में आईपीएल डेब्यू किया था. राइजिंग पुणे सुपरजाएंट ने उन्हें मौका दिया. इस टीम का बोरिया बिस्तर तो बंध चुका है लेकिन सुंदर के करियर का टेंट तन गया. पुणे के लिए उन्होंने 11 मैच खेले थे और आठ विकेट लिए थे. सुंदर का कहना है कि पुणे में एमएस धोनी के साथ खेलने का उन्हें फायदा हुआ. धोनी ने क्रिकेटर के रूप में आगे बढ़ने में उनकी मदद की. इसका फायदा उन्हें अभी भी मिलता है.

छह फीट लंबा स्पिनर

सुंदर की लंबाई करीब छह फीट है. वे इसका फायदा बॉलिंग में उठाते हैं. सुंदर का कहना है कि लंबा कद उनके लिए एडवांटेज है. वे इसको ज्यादा से ज्यादा भुनाने में लगे हैं. पिछले एक साल में तो उन्होंने इस पर काफी काम किया है. वे गेंद को जितना संभव है, उतना देरी से फेंकते हैं. इससे बल्लेबाज के मूवमेंट का पता लगाने में मदद मिल जाती है और प्लानिंग को एग्जीक्यूट करने में भी फायदा होता है.

अभी बैटिंग तो बाकी है

सुंदर ने अभी तक 28 आईपीएल मैच खेले हैं और 21 विकेट लिए हैं. साथ ही बैटिंग में भी उनका दावा कमजोर नहीं है. बता दें कि तमिलनाडु के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में ओपनिंग करते हुए वे शतक लगा चुके हैं. सुंदर का मानना है कि आने वाले समय में बल्लेबाजी में भी वे कमाल करेंगे.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)

Related Posts