बेडरूम से निकलकर दफ्तर पहुंची वियाग्रा, यूं हो रहा इस्तेमाल

यह बात सुनने में कई लोगों को अजीब लग सकती है कि सेक्सुअल डिसफंक्शन आपकी वर्क परफॉर्मेंस को खराब कर रहा है.
viagra research on sexual dysfunction, बेडरूम से निकलकर दफ्तर पहुंची वियाग्रा, यूं हो रहा इस्तेमाल

दुनिया भर में लोग सेक्स परफॉर्मेंस को बेहतर बनाने के लिए वियाग्रा जैसी ड्रग का इस्तेमाल करते हैं. हालांकि पिछले कुछ समय से दवाइयों के जरिए सेक्स परफॉर्मेंस बढ़ाने के दावों पर सवाल भी उठने लगे हैं. इसे देखते हुए वियाग्रा की पेरेंट कंपनी ने एक नए प्रयोग की तैयारी शुरू की है.

अमेरिका की फार्मेसी कंपनी Pfizer के वैज्ञानिकों ने सेक्सुअल डिसफंक्शन को लेकर एक शोध किया है. इसमें पाया गया है कि लोगों के सेक्सुअल डिसफंक्शन का दफ्तर में के ‘एब्जेंटिज्म’ (किसी और दुनिया में खोए रहना) और ‘प्रेजेंटिज्म’ से सीधा संबंध होता है.

यह बात सुनने में कई लोगों को अजीब लग सकती है कि सेक्सुअल डिसफंक्शन आपकी वर्क परफॉर्मेंस को खराब कर रहा है. इससे पहले भी रिसर्च में यह बात सामने आ चुकी है कि जोड़ों में दर्द, एलर्जी और डिप्रेशन (मानसिक अवसाद) की वजह से वर्क परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है.

यह शोध 8 देशों के कुल 52,697 पुरुषों पर किया गया है. शोध में 7% लोग एब्जेंटिज्म का शिकार पाए गए जिनमें से 3% लोग बिना किसी वजह से वर्कप्लेस से गायब रहते हैं. इस शोध की मानें तो खराब सेक्स परफॉर्मेंस वाले पुरुषों की तुलना में बेहतर सेक्स परफॉर्मेंस देने वाले लोगों की प्रोडक्टिविटी दोगुनी होती है.

शोध में बताया गया है कि इरेक्टाइल डिसफंक्शन को वियाग्रा से दूर किया जा सकता है. ऐसा माना जा रहा है कि लोगों में बढ़ते इरेक्टाइल डिसफंक्शन से राहत मिलने के बाद कंपनी के मालिक के मुनाफे में बढ़ोत्तरी हो सकती है.

बता दें कि साल 2019 की शुरुआत में ही अमेरिका में वियाग्रा की बिक्री में 9% की गिरावट दर्ज की गई थी. 2019 के समाप्त होते-होते कई बाजारों से यह ड्रग पूरी तरह गायब हो चुका था. ऐसे में वियाग्रा का नया इस्तेमाल कंपनी के लिए राहत की बात है.

ये भी पढ़ें-

Facebook लाया नया सिक्योरिटी फीचर, अब चोरी नहीं होगा आपका डाटा

जीजा-साली की ये जोड़ी देती थी खौफनाक वारदातों को अंजाम, अब पुलिस ने किया गिरफ्तार

Related Posts