• Home  »  फ़ैशनलाइफस्‍टाइल   »   सब्यसाची ने स्कूल की लड़कियों के लिए डिजाइन किया यूनिफॉर्म, सोशल मीडिया पर बताई वजह

सब्यसाची ने स्कूल की लड़कियों के लिए डिजाइन किया यूनिफॉर्म, सोशल मीडिया पर बताई वजह

स्कूल यूनिफॉर्म के फ्रॉक और आस्तीन में अजरख कारीगरी की गई. अजरख (Ajrakh) कारीगरी एक खास तरह की ब्लॉक प्रिटिंग है जो राजस्थान और गुजरात में बहुत प्रसिद्ध है. अजरख के प्रोडक्ट्स नेचुरल सब्जियां और मिनरल डाइ से बनता हैं.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:44 pm, Thu, 15 October 20
sabyasachi designed uniform dress
सब्यासाची डिजाइन यूनिफॉर्म ड्रेस

डिजाइनर सब्यसाची (Sabyasachi) बॉलीवुड सेलेब्स के लिए ड्रेसेस डिजाइन करते हैं. हाल ही में उन्होंने जैसलमेर के स्कूल स्टूडेंट के लिए यूनिफॉर्म डिजाइन किया है. डिजाइनर ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर राजकुमारी रत्नावती गर्ल्स स्कूल स्टूडेंट की फोटो शेयर की है.

स्टूडेंट के यूनिफॉर्म का डिजाइन बहुत अच्छा है. स्टूडेंट की ड्रेस मार्डन स्टाइल कुर्ता पैजमा है. गोल गले की ब्लू कलर की घूटनों तक की फ्रॉक है जिसमें आस्तीन लगी हुई है और दो पोक्ट्स बनाए गए हैं. इसी के साथ मरून कलर की वेस्ट पैंट है.

स्कूल यूनिफॉर्म के फ्रॉक और आस्तीन में अजरख कारीगरी की गई. अजरख (Ajrakh) कारीगरी एक खास तरह की ब्लॉक प्रिटिंग है जो राजस्थान और गुजरात में बहुत प्रसिद्ध है. अजरख के प्रोडक्ट्स नेचुरल सब्जियां और मिनरल डाइ से बनता हैं.

प्रेग्नेंसी में करीना कपूर ने पूरी की ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग, आमिर खान के साथ शेयर की फोटो

https://www.instagram.com/p/CGTpHVYBK7W/

 

CITTA की पहल पर इस स्कूल को बनाया गया है जो कि नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन है जिसके संस्थापक अमेरिकन आर्टिस्ट माइकल ड्यूब है. इस स्कूल कोन्यूयार्क के आर्किटेक्चर ने डिजाइन किया है. स्कूल के वेबसाइट पर मिली जानकारी के अनुसार इस स्कूल का उद्देश्य पिछड़ी लड़कियों को पढ़ाना ही नहीं बल्कि महिलाओं को स्किल्स सिखाना है ताकि वह आत्मनिर्भर बन सके.

सब्यसाची ने अपने पोस्ट में लिखा, मैंने हमेशा विश्वास किया है कि शिक्षा से बदलाव लाया जा सकता है. खास कर मेरे दिल के सबसे करीब मुद्दों में लड़कियों को शिक्षित करना है. जब मुझे माइकल ड्यूब ने स्कूल यूनिफॉर्म बनाने के लिए सपंर्क किया तो मैं उत्साहित हो गया.

https://www.instagram.com/p/CGTpAWVBk7y/

 

उन्होंने आगे लिखा, मैं इन ऑउटफिट्स को डिजाइन करते हुए केवल यह सुनिश्चित करना चाहता था कि वे इस क्षेत्र के शिल्प विरासत को प्रतिबिंबत करें. ये स्कूल दिसंबर 2020 में खुलेगा.