एंटी नेशनल कहे जाने पर मुझे गर्व है: महबूबा मुफ्ती

महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया कि मुझे एंटी नेशनल कहलाने पर गर्व है. जब गांधी को गोली मारने वाले को नेशनलिस्ट कहा जा रहा है.

भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर का गोडसे पर दिया बयान भारी पड़ रहा है. एक तरफ बीजेपी ने बयान से खुद को अलग करते हुए उनसे माफी मांगने की बात की है. वहीं हर कोई प्रज्ञा की तीखी आलोचना कर रहा है. इस लिस्ट में नया नाम महबूबा मुफ्ती का जुड़ा है. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि उन्हें एंटी नेशनल कहे जाने पर गर्व है. जबकि गांधी को गोली मारने वाले एक कट्टर हिंदू को नेशनलिस्ट कहा जा रहा है. ऐसा नेशनलिज्म और देशभक्ति हमारे बस की नहीं. ये आपको मुबारक.

प्रज्ञा ठाकुर ने अपने बयान में कहा था कि “नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, हैं और रहेंगे. उनको आतंकवादी कहने वाले लोग स्‍वयं के गिरेबान में झांककर देखें. अबकी चुनाव में ऐसे लोगों को जवाब दे दिया जाएगा.” गोडसे वही आदमी है जिसने 30 जनवरी 1948 को नई दिल्ली में महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की थी. इस जुर्म में उसे फांसी की सज़ा हुई थी.

महबूबा मुफ्ती पीडीपी की नेता और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री हैं. बीजेपी और पीडीपी के गठबंधन से जो सरकार बनी थी उसमें ये मुख्यमंत्री थीं. गठबंधन टूटने के बाद सरकार गिर गई. उसके बाद पीडीपी और बीजेपी में तल्खी बराबर बढ़ती जा रही है.