पूर्व ACP रियाज़ देशमुख, प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव

रियाज़ देशमुख महाराष्ट्र के औरंगाबाद के रहने वाले हैं और ATS चीफ हेमंत करकरे को अपना आदर्श मानते हैं.
ACP riyaz deshmukh, पूर्व ACP रियाज़ देशमुख, प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव

भोपाल: देश की चर्चित लोकसभा सीट बनी भोपाल में नया मोड़ आया है. दरअसल इस सीट से पूर्व ACP रियाज़ देशमुख भी चुनाव लड़ेंगे. मुंबई आतंकी हमले के दौरान शहीद एटीएस चीफ हेमंत करकरे के पूर्व सहयोगी रिटायर्ड एसीपी रियाज देशमुख ने भोपाल से निर्दलीय नामांकन किया है

जानकारी के मुताबिक साध्वी प्रज्ञा के हेमंत करकरे पर दिए गए विवादित बयान के बाद रियाज देशमुख ने प्रज्ञा के खिलाफ चुनाव लड़ने का फैसला किया है. रियाज़ देशमुख महाराष्ट्र के औरंगाबाद के रहने वाले हैं और ATS चीफ हेमंत करकरे को अपना आदर्श मानते हैं.

देशमुख ने कहा कि भोपाल में 12 मई को होने वाले चुनाव के लिए निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में उन्होंने नामांकन पत्र भरा है. उन्होंने कहा, जब साध्वी ने अपना नामांकन फार्म भरा था तभी मैंने तय कर लिया था कि साध्वी के खिलाफ चुनाव लड़ूंगा. मैं नहीं चाहता कि कोई भी शहीद करकरे की छवि धूमिल करे.

हेमंत करकरे के साथ काम कर चुके रियाज़ ने कहा कि, “प्रज्ञा की उम्मीदवारी के तुरंत बाद तय किया, मैंने उनके खिलाफ चुनाव लड़ने का मन बनाया क्योंकि मैं देख नहीं सकता कि महाराष्ट्र में सबसे अच्छे और सबसे ईमानदार अधिकारियों में से एक के साथ दुर्व्यवहार हो. करकरे ने मुझे सभी पेशेवर मामलों में मार्गदर्शन किया और हमेशा मेरे साथ खड़े रहे.”

रियाज देशमुख, हेमंत करकरे के साथ अपनी सेवाएं दे चुके हैं. वह तब करकरे के अधीन सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थे. वह अमरावती से क्राइम ब्रांच में एसीपी पद पर रहते हुए रिटायर हुए थे. अब वह औरंगाबाद में रहते हैं. उन्होंने तीन दशक से ज्यादा समय तक पुलिस फोर्स को अपनी सेवाएं दी हैं.

ये भी पढ़ें- साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ रिटायर्ड ब्यूरोक्रेट्स ने खोला मोर्चा

ये भी पढ़ें- साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की उम्‍मीदवारी पर रोक से NIA कोर्ट का इनकार, कहा- कानूनी शक्ति नहीं

ये भी पढ़ें- प्रज्ञा ठाकुर को NCP कार्यकर्ता ने दिखाए काले झंडे, जमकर हुई पिटाई, देखें VIDEO

Related Posts