चाची मेनका के खिलाफ प्रचार करने पहुंचे राहुल, बोले ‘मोदी ने 12 साल के बच्चे से पूछा होता तो नोटबंदी नहीं करते’

सोमवार को राहुल गांधी ने सुल्तानपुर पहुंचकर अपनी चाची मेनका गांधी के खिलाफ प्रचार किया.

सुल्तानपुर: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को चुनाव प्रचार करने सुल्तापुर पहुंचे. उन्होंने यहां कांग्रेस प्रत्याशी डा. संजय सिंह के लिए वोट मांगे. यहां से BJP की उम्मीदवार मेनका गांधी हैं जो राहुल गांधी की रिश्ते में चाची हैं. उन्होंने अमेठी-रायबरेली में प्रचार के बाद दिल्ली जाने के पहले अमहट एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया .

राहुल गांधी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 लाख 55 हजार करोड़ रुपए 15 लोगों को दे सकते है तो क्या कांग्रेस गरीबो को 72 हजार सालाना नही दे सकती है?  इस दौरान उन्होंने चौकीदार चोर के नारे लगवाए.

उन्होंने कहा कि यह चौकीदार आज ऐसा शब्द बन गया है कि चाहे जिस सुर-लय में चौकीदार बोलिए इसके बाद चोर ही निकलेगा. उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस 2019 के चुनाव के बाद सरकार में आई तो 72 हजार रुपये महिलाओ के खाते में डालेंगे.

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ने नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स बिना देश की जनता से पूछे किया. उन्होंने इसके नुकसान के लिए पास खड़े एक 12 साल के बच्चे से पूछा और कहा कि यदि मोदी ने 12 साल के बच्चे से भी पूछ लिया होता तो नोटबंदी न करते. देश में एक तरह का टैक्स जीएसटी काफी था किन्तु कई तरह के टैक्स लगाकर जनता की जेब से पैसे निकाल लिया, जिससे 45 साल में देश में पहली बार सबसे ज्यादा बेरोजगारी हुई.

मालूम हो कि सुल्तानपुर से पहले वरुण गांधी सांसद थे, लेकिन इस बार भाजपा ने मां-बेटे की सीटों में बदलाव किया है. इस बार सुल्तानपुर से मेनका गांधी और पीलीभीत से वरुण गांधी मैदान में हैं. पीलीभीत में तीसरे चरण में मतदान होना है, तो वहीं सुल्तानपुर में पांचवें चरण में मतदान होगा.

ये भी पढ़ें- हाथ काटने की बात करने वाले वरुण गांधी ने ऐसे बदला रंग..