AAP और समाजवादी पार्टी के बीच पक रही है चुनाव बाद होने वाले गठबंधन की खिचड़ी!

लोकसभा चुनाव का मतदान खत्म होने के बाद से ही तमाम विपक्षी दलों ने चुनाव बाद होने वाले गठबंधन को लेकर मुलाकातों का दौर शुरू कर दिया है. ताकि चुनाव बाद किसी वैकल्पिक स्थिति में सरकार बनाई जा सके.
lok sabha election 2019, AAP और समाजवादी पार्टी के बीच पक रही है चुनाव बाद होने वाले गठबंधन की खिचड़ी!

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव थम चुका है. अब सभी को इंतजार है चुनावी नतीजे के दिन यानी 23 मई का. हालांकि न्यूज चैनल्स ने भी एग्जिट पोल के जरिए नतीजों से पहले नतीजे दिखाने का प्रयास किया. आखिरी चरण के मतदान वाले दिन आए एग्जिट पोल ने जहां बीजेपी नेताओं को राहत की सांस लेने का मौका दिया. तो वहीं विपक्षी दल इन आंकड़ों पर यकीन न कर विपक्ष को एक सूत्र में पिरोने की कोशिश में जुट गए हैं.

इसी कवायत में जुटे आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू तमाम राज्यों में घूम-घूम कर विपक्षी दलों के दिग्गजों से मुलाकात कर रहे हैं. यहां एक रणनीति तो साफ हो गई है कि इन तमाम विपक्षी दलों ने अपने-अपने राज्यों में चुनाव लड़ने के दौरान राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन के मसले पर इतना जोर नहीं दिया. लेकिन चुनाव बाद उनमें गठबंधन की उम्मीद साफ देखी जा सकती है. जैसी चुनावों के पहले थी.

चुनाव बाद होने वाले गठबंधन के कयासों की ऐसी ही हल्की सी तस्वीर पेश की आम आदमी पार्टी और समाजवादी पार्टी के प्रमुखों ने. दरअसल आम आदमी पार्टी के नेता और सांसद संजय सिंह उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात करने पहुंचे. इसकी तस्वीर समाजवादी पार्टी प्रमुख ने ट्वीट करते हुए लिखा, “आप के साथ.”

अखिलेश के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी प्रमुख ने लिखा, “हम भी आप के साथ हैं अखिलेश जी.”

ट्विटर के जरिए इन दो पार्टियों के प्रमुखों के बीच हुए इस छोटे से संवाद में काफी महत्वपूर्ण राजनीतिक गठजोड़ की कहानी देखी जा सकती है. दरअसल चुनाव बाद अगर बीजेपी के अलावा कोई वैकल्पिक सरकार बनती है, तो ऐसी स्थिति में विपक्षी दल मिलकर किसी एक नाम पर सहमत होकर सरकार बना सकते हैं. इस बात की कवायद में ज्यादातर दल लगे हुए हैं.

ये भी पढ़ें: चुनाव नतीजों में गड़बड़ी हुई तो सड़कों पर बहेगा खून: उपेंद्र कुशवाहा की धमकी

Related Posts