EVM, VVPAT के मसले पर विपक्षी दलों की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- मोदी है तो रिजल्ट लूट भी मुमकिन

एक्जिट पोल्‍स के अनुसार, केंद्र में सत्‍ताधारी NDA को एक बार फिर बहुमत मिलने के आसार हैं.

नई दिल्‍ली: लोकसभा चुनाव की मतगणना 23 मई को होगी. उससे पहले, मंगलवार को 21 विपक्षी दल चुनाव आयोग से मिलकर EVM और VVPAT को लेकर अपनी चिंताएं जाहिर की. विपक्षी दलों ने मंगलवार को संविधान क्‍लब में बैठक भी की जिसमें कांग्रेस, सपा, बसपा, तेदेपा, टीएमसी, सीपीआई, जेडीएस, एनसीपी और लेफ्ट के दल समेत कुल 19 पार्टियों के नेता शामिल हुए.

विपक्षी दल बैठक के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेस कर रहे हैं. राजद नेता रामचंद्र पूर्वे ने इस दौरान कहा कि एग्जिट पोल झूठा है. महागठबंधन की जीत होगी. परिणाम के बाद एनडीए में टूट होगी. इसी टूट को बचाने के लिए सरकार ये खेल कर रही है.

उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि एग्जिट पोल सरकारी षड्यंत्र का हिस्सा है. सारे हथकंडे अपनाए जा रहे हैं. हम इस एग्जिट पोल को सिरे से खारिज कर रहे हैं. पहले बूथ लूट जाता था अब रिजल्ट की लूट हो रही है. मोदी है तो रिजल्ट लूट भी मुमकिन है. अधिकांश सीटों पर महागठबंधन जीत रहा है.

EVM VVPAT, EVM, VVPAT के मसले पर विपक्षी दलों की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- मोदी है तो रिजल्ट लूट भी मुमकिन

EVM VVPAT, EVM, VVPAT के मसले पर विपक्षी दलों की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- मोदी है तो रिजल्ट लूट भी मुमकिन

उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि लोगों में आक्रोश है. सड़कों पर खून बहेगा. इसकी जवाबदेही सरकार की होगी. खून खराबे की आशंका है. खबर है कि उपेंद्र कुशवाहा बीच में ही प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर भाग गए हैं.

वहीं, कांग्रेस नेता मदन मोहन झा ने कहा कि एग्जिट पोल के माध्यम से जनता को भरमाया जा रहा है. सरकार के मन मे खोट है. एग्जिट पोल 23 को गलत साबित होगा.

बसपा के सतीश मिश्रा ने टीवी9 भारतवर्ष से कहा कि हम EVM से जुड़े सभी वीडियोज चुनाव आयोग को दिखाएंगे और उनसे जवाब मांगेंगे. BJP के इस आरोप पर कि विपक्ष डरा हुआ है, सपा के रामगोपाल यादव ने कहा कि ‘हां, हम बहुत डरे हुए हैं.. 23 तारीख की शाम को सब पता चल जाएगा.’

एक्जिट पोल्‍स में विपक्षी दलों का प्रदर्शन निराशाजनक ही दिखा गया है. क्षेत्रीय दलों के भी खराब परफॉर्म करने का अनुमान लगाया गया है. 13 एक्जिट पोल्‍स में बताया गया है कि विपक्षी गठबंधन 122 से ज्‍यादा सीटें नहीं जीतेगा. अधिकतर राजनैतिक दलों ने कहा है कि एक्जिट पोल्‍स अक्‍सर सही नहीं होते. तृणमूल कांग्रेस की अध्‍यक्ष ममता बनर्जी ने कहा है कि ऐसे एक्जिट पोल्‍स “हजारों EVMs को बदलने या गड़बड़ी करने” के लिए लाए जाते हैं.

विपक्षी दलों ने उठाए हैं एक्जिट पोल्‍स पर सवाल

सोमवार को तेलुगू देशम प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू ने कहा था कि चुनाव आयोग को पारदर्शिता और जिम्‍मेदारी सुनिश्चित करनी चाहिए. उन्‍होंने सवाल उठाए कि 50 फीसदी वोटर स्लिप्‍स का VVPAT से मिलान क्‍यों नहीं किया जा रहा है.

कर्नाटक सीएम एचडी कुमारस्‍वामी ने कहा कि ‘एक्जिट पोल एक खास नेता और उसकी पार्टी के पक्ष में एक लहर का झूठा वातावरण तैयार करने का एक प्रयास था.’ उन्होंने कहा कि एक्जिट पोल को अनावश्यक अधिक महत्व नहीं दिया जाना चाहिए, जो मात्र अस्थायी आंकड़े पेश करता है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और सत्ताधारी एआईएडीएमके के नेता के. पलनीस्वामी ने ओपिनियन/एक्जिट पोल को जबरदस्ती की राय करार दिया है.

ये भी पढ़ें

नीतीश कुमार NDA की बैठक में होंगे शामिल, अमित शाह सहयोगियों को कराएंगे डिनर

VIDEO: EVM की सुरक्षा पर उठ रहे सवाल, चुनाव आयोग ने दिए जवाब