अमेठी के साथ केरल की इस सीट से भी चुनाव लड़ेंगे राहुल गांधी

अमेठी में राहुल गांधी के सामने भारतीय जनता पार्टी ने स्मृति ईरानी को खड़ा किया है. वहीं वायनाड से राहुल गांधी को टक्कर देने के लिए पार्टी किसे चुनावी रण में उतारती है, यह देखना दिलचस्प होगा.

नई दिल्ली: जैसे-जैसे लोकसभा चुनावों की तारीख नजदीक आ रही है, राजनीतिक पार्टियों ने कमर कसते हुए चुनावी रैलियां की तैयारियां पूरी जोरशोर से शुरू कर दी है. वहीं कांग्रेस पार्टी भी इन चुनाव में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती और बीजेपी को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाना चाहती है. इसे ध्यान में रखते हुए अध्यक्ष राहुल गांधी ने फैसला किया है कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के अमेठी के साथ-साथ केरल के वायनाड से भी चुनावी रण में उतरेंगे.

कांग्रेस के नई दिल्ली स्थित हेडक्वाटर में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पार्टी के दिग्गज नेता एके एंटनी ने राहुल गांधी की लोकसभा चुनाव सीट की घोषणा करते हुए कहा, “राहुल गांधी ने फैसला किया है कि वे केरल के वायनाड से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे.”इसके साथ ही एंटनी ने कहा, “काफी समय से राहुल गांधी जी से मांग की जा रही थी कि वे दक्षिण भारत की किसी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ें. राहुल गांधी ने हमारी मांग को स्वीकार किया और उनके इस फैसले से हम बहुत खुश हैं.”

वहीं राहुल गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने को लेकर केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा, “राहुल गांधी 20 में से एक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं और इसमें कुछ अलग नजर नहीं आता. हम उनके खिलाफ लड़ेंगे.” वहीं सीपीआई (एम) के पूर्व जनरल सेक्रेटरी प्रकाश करात ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल गांधी जैसे उम्मीदवार को लेफ्ट के खिलाफ चुनने का मतलब है कि कांग्रेस केरल में लेफ्ट को टार्गेट करने जा रही है.  इसकी हम कड़ी निंदा करते हैं और आगामी लोकसभा चुनावों में हम इस काम पर ध्यान देंगे कि वायनाड से राहुल गांधी को शिकस्त दे सकें.