“घुसपैठिए कहते हैं कि पूजा नहीं होगी, तो दीदी कहती हैं कि ठीक है नहीं होगी, आप बस वोट दे देना”

चेतावनी देते हुए अमित शाह ने कहा, "घुसपैठिए कान खोलकर सुन लें, उनके लिए इस देश में कोई जगह नहीं है. हमारी सरकार बनने के बाद एक-एक घुसपैठिए को चुन-चुनकर बाहर किया जाएगा."

कोलकाता: आखिरी चरण का चुनाव बाकी है ऐसे में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्षी दलों पर हमला और तल्ख कर दिया है. इसी कड़ी में उन्होंने सोमवार को पश्चिम बंगाल में एक जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए कहा, “घुसपैठिए कहते हैं कि सरस्वती पूजा नहीं होगी, तो ममता दीदी कहती हैं कि ठीक है पूजा नहीं होगी, आप बस वोट दे देना.” अमित शाह आगे कहते हैं कि ये बंकिमचंद्र, रवीन्द्रनाथ जी का बंगाल है. यहां सरस्वती पूजा नहीं होगी तो क्या पाकिस्तान में होगी?

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘इससे पहले बंगाल के जाधवपुर में मेरी एक सभा थी, ममता दीदी ने सभा की अनुमति नहीं दी. ममता दीदी आप मुझे रोक सकती हो, लेकिन जनता को रोक नहीं सकती. जनता ने इस बार आपकी विदाई तय कर दी है.” शाह ने कहा कि 10 साल तक यूपीए सरकार थी, ममता बनर्जी इस सरकार का समर्थन करती थीं. यूपीए सरकार ने बंगाल को 1 लाख 32 हजार करोड़ रुपये दिए थे. मोदी जी ने बंगाल को 4 लाख 24 हजार करोड़ से भी ज्यादा की धनराशि दी है.

यूपीए शासन पर हमला करते हुए अमित शाह ने कहा, “मैं यहां की जनता को कहता हूं कि जहां-जहां भाजपा का शासन है वहां का विकास देखिए. हर घर में 24 घंटे बिजली, साफ पानी, युवाओं को रोजगार, गांव-गांव में अस्पताल है. किसानों की फसल समय पर खरीदी जाती है. बंगाल में ये कुछ नहीं होता, सब सिंडिकेट की भेंट चढ़ जाता है. चेतावनी देते हुए शाह ने कहा, “घुसपैठिए कान खोलकर सुन लें, उनके लिए इस देश में कोई जगह नहीं है. हमारी सरकार बनने के बाद एक-एक घुसपैठिए को चुन-चुनकर बाहर किया जाएगा.”

ये भी पढ़ें: ‘कसाइयों के दोस्त से बदला लेने गया था नंदी’, CM योगी का अखिलेश पर तंज