Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली
Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली

जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली

जेटली ने कहा कि यह एक ऐसे शख्स की कहानी है, जो रक्षा सौदागर बनने की ख्वाहिश रखता था और आज भारत का प्रधानमंत्री बनने की ख्वाहिश रखता है.
Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बीजेपी दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राहुल गांधी पर सीधा हमला बोला. जेटली ने कहा कि यह एक ऐसे शख्स की कहानी है, जो रक्षा सौदागर बनने की ख्वाहिश रखता था और आज भारत का प्रधानमंत्री बनने की ख्वाहिश रखता है. जेटली ने राहुल पर कैश डायरी को लेकर कई सवाल किए. इस दौरान अरुण जेटली ने कहा कि राहुल कभी भी इस पर जवाब क्यों नहीं देते.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राहुल गांधी पर रक्षा ऑफसेट कांट्रेक्ट मामले में सीधा हमला किया. उन्होंने कहा कांग्रेस अध्यक्ष एक ऐसे व्यक्ति हैं ‘जो ‘डिफेंस डील पुशर’ बनने के इच्छुक थे और आज भारत के प्रधानमंत्री बनने की इच्छा रखते हैं.’

जेटली का आरोप नंबर- 1
जेटली ने कहा, “राहुल गांधी ने ट्रांजेक्शन को कैग और सर्वोच्च न्यायालय द्वारा सही ठहराए जाने पर आरोप लगाए. एक कंपनी द्वारा ऑफसेट कांट्रेक्ट पाने पर, उन्होंने उस व्यक्ति पर हमला किया जो किसी भी तरह से उस कंपनी से जुड़ा हुआ नहीं था और आप यहां एक अन्य रक्षा सौदे में ऑफसेट अनुबंध पाने वाली कंपनी से सीधे जुड़े हुए हैं.”

जेटली का आरोप नंबर- 2
उन्होंने कहा, “अब आप खुद को कैसे जज करना चाहेंगे जबकि आप दूसरों को बिना किसी सबूत के जज कर रहे थे.” जेटली ने कहा कि राहुल के पूर्व व्यापारिक सहयोगी उलरिक मेकनाइट को उसकी ब्रिटेन स्थित कंपनी बैकॉप्स लिमिटेड के लिए 2011 में संप्रग के कार्यकाल में फ्रांस की डिफेंस सप्लायर से स्कॉर्पीन सबमैरीन का ऑफसेट रक्षा सौदा प्राप्त होता है.

आरोप नंबर- 3
उन्होंने कहा कि बैकॉप्स में वर्ष 2003 से 2009 के दौरान राहुल की 65 प्रतिशत हिस्सेदारी थी. बाद में कंपनी ने अपना संचालन बंद कर दिया. उन्होंने कहा, “मेकनाइट के ऑफसेट कांट्रेक्ट पाने के बाद उसने स्कार्पीन सबमेरीन मिसाइलों के क्रिटिकल भागों की आपूर्ति के लिए विशाखापत्तनम स्थित कंपनी के साथ कांट्रेक्ट पर हस्ताक्षर किए थे.”

जेटली का आरोप नंबर- 4
जेटली ने दावा करते हुए कहा, “यूरिक मेकनाइट एक अमेरिकी नागरिक है, लेकिन वह राहुल के सोशल गैंग के सदस्य भी हैं.” उन्होंने कहा, “यह उस व्यक्ति की कहानी है जो डिफेंस डील पुशर बनने का इच्छुक था और आज देश का प्रधानंत्री बनना चाहता है.”

राहुल का जवाब
राहुल ने एक प्रेस वार्ता में इन आरोपों और भाजपा नेता के हमलों का जवाब देते हुए कहा, “कृपया आप जो भी जांच कराना चाहते हैं या कार्रवाई करना चाहते हैं, कर लें. मुझे कुछ समस्या नहीं है, क्योंकि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है. लेकिन कृपया राफेल की जांच भी कराइए, तथ्यों को छुपाइए नहीं.”

Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली
Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली

Related Posts

Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली
Arun Jaitley, जो रक्षा सौदागर बनना चाहता था, आज वो भारत का PM बनने की ख्वाहिश रखता है- जेटली