आजम को गिरिराज की खुली धमकी, कहा- बेगूसराय चुनाव खत्म होने के बाद बताएंगे क्या हैं बजरंग बली?

ताज़ा घटनाक्रम में बेगूसराय लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने कहा है कि बेगूसराय का चुनाव खत्म होने के बाद रामपुर आके बताएंगे कि बजरंगबली क्या हैं?
Giriraj singh on Bajrang bali, आजम को गिरिराज की खुली धमकी, कहा- बेगूसराय चुनाव खत्म होने के बाद बताएंगे क्या हैं बजरंग बली?

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 को देखते हुए नेताओं के बीच राजनीतिक बयानबाजी तेज़ है. वहीं पिछले कुछ दिनों से इस राजवीतिक घमासान में बजरंग बली को भी शामिल कर लिया गया है. सीएम योगी के बजरंग बली वाले बयान के बाद रामपुर से गठबंधन प्रत्याशी और समाजवादी पार्टी नेता आज़म ख़ान ने उन्हें बजरंगअली करार दे दिया था.

अब ताज़ा घटनाक्रम में बेगूसराय लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने कहा है कि बेगूसराय का चुनाव खत्म होने के बाद रामपुर आके बताएंगे कि बजरंगबली क्या हैं? उन्होंने आज़म के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘आज़म खान ने पहले प्रधानमंत्री मोदी जी को गाली दिया अब हमारे भगवान को गाली दे रहा …आज़म खान ,बेगूसराय का चुनाव खत्म होने के बाद रामपुर आके हम बताएंगे कि बजरंग बली क्या हैं?’

बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मेरठ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि अगर बसपा-सपा और कांग्रेस को ‘अली’ पर विश्वास है तो हमें भी बजरंगबली पर विश्वास है.

जिसके बाद आजम खान ने रामपुर में योगी आदित्यनाथ के बयान पर पलटवार करते हुए कहा, ‘अली और बजरंग बली में झगड़ा मत करवाओ. मैं इसके लिए एक नाम दिए देता हूं. बजरंग अली से मेरा दीन कमजोर नहीं होता. योगी जी ने कहा कि हनुमान जी दलित थे और फिर उनके किसी साथी ने कहा कि हनुमान जी ठाकुर थे. फिर पता चला कि वह ठाकुर नहीं जाट थे. फिर किसी ने कहा कि वह हिंदुस्तान के नहीं श्रीलंका के थे लेकिन बाद में एक मुसलमान ने कहा कि बजरंगबली मुसलमान थे. झगड़ा ही खत्म हो गया. हम अली और बजरंग एक हैं. बजरंग अली तोड़ दो दुश्मन की नली. बजरंग अली ले लो जालिमों की बलि.’

Related Posts