इस तरह के विचार बर्दाश्त करने लायक नहीं, प्रज्ञा के गोडसे वाले बयान पर भड़के नीतीश कुमार

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वे गोडसे पर दिए बयान को लेकर प्रज्ञा को कभी माफ नहीं करेंगे और अब नीतीश कुमार ने बीजेपी उम्मीदवार को आड़े हाथों लिया है.

पटना: महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथू राम गोडसे को देशभक्त बताने वाली भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की भोपाल लोकसभा सीट से उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निशाना साधा है.

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वे गोडसे पर दिए बयान को लेकर प्रज्ञा को कभी माफ नहीं करेंगे और अब नीतीश कुमार ने बीजेपी उम्मीदवार को आड़े हाथों लिया है.

पटना में मतदान करने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि प्रज्ञा का बयान कतई भी बर्दाश्त करने वाला नहीं है. प्रज्ञा के बयान की निंदा करते हुए सुशासन बाबू ने कहा, “ये देश महात्मा गांधी राष्टपिता का देश है और कोई गोडसे के बारे में ऐसी बात करेगा वो निंदनीय है.”

नीतीश से जब पूछा गया कि बीजेपी प्रज्ञा ठाकुर को क्यों पार्टी से नहीं निकाल रही है, तो इसका जवाब देते हुए उन्होंने, “यह पार्टी का अंदरूनी मामला है. जहां तक सवाल है देश और हमारी सोच का, तो सवाल ही नहीं खड़ा होता कि हम ये सब बर्दाश्त करेंगे.”

इसके बाद उन्होंने कहा, “एक व्यक्ति क्या बोला, उसपर प्रतिक्रिया देना और एक्शन लेना पार्टी का काम है, लेकिन जहां तक किसी भी व्यक्ति का इस तरह का विचार है, ये हम लोगों के लिए बर्दाश्त के लायक नहीं है. सरकार से कोई समझौता नहीं, अपराध से कोई समझौता नहीं और साम्प्रदायिकता से कोई समझौता नहीं होगा.”