भाजपा ने राजस्थान की 16 सीटों के लिए घोषित किए उम्मीदवार, महिला सांसद का काटा टिकट

भाजपा ने अपनी पहली लिस्ट में 16 में से 14 पुराने चेहरों पर भरोसा जताया है. इसमें मोदी सरकार के 5 में से 4 मंत्रियों के नाम शामिल हैं.

जयपुर: बीजेपी ने लोकसभा चुनाव को लेकर अपने 184 उम्मीदवारों की पहली सूची गुरुवार को जारी कर दी. इसमें राजस्थान की 16 सीटों के उम्मीदवारों का ऐलान किया गया है. बीजेपी ने इस बार राजस्थान के झुंझुनू से संतोष अहलावत का टिकट काटकर विधायक नरेन्द्र खींचल पर भरोसा जताया है.

अजमेर में भाजपा ने उपचुनाव में हार के बाद रामस्वरूप लांबा का टिकट काटकर पूर्व विधायक भागीरथ चौधरी को प्रत्याक्षी बनाया है. दरअसल बीमारी के चलते केन्द्रीय मंत्री रहे सांवरलाल जाट का सास 2017 में देहांत हो गया था. इसके बाद उनके बेटे रामस्वरूप लांबा को अजमेर लोकसभा से टिकट दिया गया था, लेकिन रघु शर्मा ने उन्हें बड़े अंतराल से हरा दिया था.

सूची में क्या रहा खास
मोदी सरकार के 5 मंत्रियों में 4 मंत्रियों का लिस्ट में नाम हैं. बीकानेर से अजुर्न राम मेधवाल, जयपुर ग्रामीण से राज्यवर्धन सिंह राठौड़, जोधपुर से गजेंन्द्र सिंह शेखावत और पाली से पीपी चौधरी.

इस लिस्ट में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बेटे दुष्यंत का नाम भी शामिल है, जिन्हे झालावाड़-बारा से टिकट दिया गया है.

बीजेपी ने पहली सूची में राजसमंद, बांसवाड़ा, बाड़मेर संसदीय क्षेत्र के नाम रोके.

16 में से 14 पुराने चेहरों पर भाजपा ने भरोसा जताया है.

लिस्ट में पूर्व मुख्यमंत्री वंसुधरा राजे की पंसद फिर से चली है. 14 पुराने चेहरे शामिल हैं. इन चेहरों पर 2014 लोकसभा चुनाव में राजे ने भरोसा किया था.

जयपुर राजपरिवार की सदस्या दीया कुमार जयपुर शहर और टोंक संवाई माधोपुर से टिकट मांग रही थीं. उनको मौका नहीं मिला.

कोटा पूर्व राजघराने से इज्यराज सिंह कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुय थे. वो कोटा से टिकट मांग रहे थे, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला.

संत समाज पर फिर से जताया भरोसा, सीकर से विरोध के बावजूद सुमेधानंद को दिया टिकट.

राजस्थान में भाजपा के उम्मीदवार-
गंगानगर- निहालचंद मेधवाल

बीकानेर- अजुर्न लाल मेधवाल

सीकर- सुमेधानंद सारस्वत,

जयपुर ग्रामीण- राज्यवर्धन सिंह राठौड़

जयपुर शहर- रामचरण बोहरा

टोंक संवाई माधोपुर- सुखबीर सिंह

अजमेर- भागीरथ चौधरी

पाली- पीपी चौधरी

जोधपुर- गजेंन्द्र सिंह शेखावत

जालोर- देवजी मानसिंग्राम पटेल

उदयपुर- अर्जुनलाल मीणा

चित्तौड़गढ़- सीपी जोशी

भीलवाड़ा- सुभाष च्रंदा बाहेरी

कोटा- ओम बिरला

झालावाड़ बारां- दुष्यंत सिंह.

महिला सासंद का कटा टिकट
सांसद संतोष अहलावत वर्तमान में झुंझुनू लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजेपी सांसद हैं. इससे पहले 2008 से 2013 तक वो सूरजगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुकी हैं. साल 2000 में संतोष अहलावत ने बुहाना से प्रधान का चुनाव जीता था. वहीं, साल 2005 में वो जिला परिषद की सदस्य रहीं. 2004 में उन्होनें झुनू से ही लोकसभा चुनाव लड़ा था, पर हार गई थीं.

संतोष का झुंझुनू लोकसभा सीट से अब टिकट कटना सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बन गया है. दरअसल. संतोष सोशल मीडिया से लेकर जनता की बीच काफी सक्रिय हैं. उनके फेसबुक पेज लाइक्स की बात करें तो राजस्थान टॉप 3 सांसद में से एक हैं. अब तक उनके पेज पर 736,767 लाइक हैं.

देश की एक मैगजीन ने देशभर में 544 सांसदों का सर्वे करवाया था. इसमें संतोष अहलावत देश की सबसे शक्शिाली सांसद चुनी गई थीं. उन्हें 95% अंक हासिल हुए थे.

हांलाकि, अभी दूसरे चरण में होने वाले चुनाव में नागौर, दौसा, करौली-धौलपुर, भरतपुर, अलवर, चुरू के साथ-साथ पहले चरण की तीन सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा होना बाकि है. लेकिन महिलाओं के लिए 33 प्रतिक्षत आरक्षण वकालत करने से लेकर ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की बात करने वाली भाजपा की ये लिस्ट कई सवाल खड़े कर दी है.