सोनिया गांधी बाहरी उम्मीदवार, रायबरेली में साढ़े 13 लाख लोग मांग रहे भीख: BJP प्रत्याशी

भाजपा उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि सोनिया गांधी विकास की नब्ज नहीं पहचान पाई हैं. यहां पर पेट्रोलियम संस्थान दे देने से लोगों के बच्चों की पढ़ाई अच्छी नहीं हो जाएगी.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की रायबरेली लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह ने अपने प्रतिद्वंदी और कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गांधी पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने सोनिया को रायबरेली में बाहरी उम्मीदवार बताया है और कहा है कि वो विकास की नब्ज नहीं पहचान पाई हैं.

‘विकास की नब्ज नहीं पहचान पाईं सोनिया’
उन्होंने कहा, “मैं तो बीजेपी का नेता हूं. कांग्रेस ही यूपी में बाहरी लोगों को चुनाव लड़ा रही है. सोनिया यहां के विकास की नब्ज नहीं पहचान पाई हैं. यहां पर पेट्रोलियम संस्थान दे देने से लोगों के बच्चों की पढ़ाई अच्छी नहीं हो जाएगी.”

‘चोर नहीं, कमल खिलेगा’
दिनेश ने दावा किया कि रायबरेली में भाजपा ने काफी बेहतर काम किया है. उन्होंने कहा कि रायबरेली में चोर नहीं बल्कि कमल जोरों से खिलेगा. पूरा का पूरा रायबरेली भाजपा को वोट दे रहा है. ऐसे में किसी तरह की सेंध लगाने का सवाल ही पैदा नहीं होता है.

‘साढ़े तेरह लाख लोग मांग रहे भीख’
भाजपा प्रत्याशी ने कहा, “आज भी रायबरेली में 3 लाख 29 हजार लोग बीपीएल सूची में पंजीकृत हैं. इसका मतलब है कि रायबरेली में साढ़े तेरह लाख लोग हाथ में कटोरा लिए भीख मांग रहे हैं. और सोनिया गांधी कहती हैं कि हमने बहुत काम किया है.”

Read Also: 51सीटों पर VOTING LIVE: फतेहपुर में मतदाता सूची से कई हज़ार लोगों के नाम गायब, लोगों में आक्रोश