‘ममता सरकार की तानाशाही है’ अमित शाह की जाधवपुर रैली रद्द करने को मजबूर BJP का निशाना

पश्चिम बंगाल में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है.

पश्चिम बंगाल सरकार ने भारतीय जनता पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह की जाधवपुर रैली को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है. BJP सूत्रों के हवाले से ANI ने कहा कि ममता बनर्जी सरकार ने शाह के हेलिकॉप्‍टर को उतरने की इजाजत भी नहीं दी. अनुमति न मिलने के बाद BJP ने जाधवपुर रैली को रद्द कर दिया है.

केंद्रीय मंत्री और वरिष्‍ठ भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तानाशाही चल रही है. उन्‍होंने कहा कि “हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को रैली की इजाजत नही दी और उसका कोई कारण नही है, हेलीकॉप्टर की परमिशन भी नही दी, लोकतंत्र की हत्या है. चुनाव आयोग इसपर संज्ञान ले.”

जावड़ेकर ने बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्‍या को लेकर भी ममता सरकार पर सवाल खड़े किए. उन्‍होंने कहा, “बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की गई है, पर (ममता सरकार ने) कोई करवाई नही की.”

केंद्री मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा कि “बंगाल में संवैधानिक मशीनरी खराब हो गई है. लोकतंत्र पर गुंडों का राज हो गया है. बंगाल के लोग इतना डरे हुए हैं तभी अमित शाह का हेलिकॉप्टर नहीं उतरने दिया.” नकवी ने कहा कि ‘ममता जी का 23 तारीख को सूपड़ा साफ होने वाला है. अकेली राज्य सरकार है कि जो चुनाव के दौरान सेंट्रल फोर्स को मना कर रही है.’ उन्‍होंने कहा, “टीएमसी की मान्यता खतरे में है. बंगाल में गणतंत्र का गुंडातंत्र अपहरण कर ले तो क्या होगा. बंगाल में जो हालात है, लोगो को वोट करने से रोका जा रहा है और अब टीएमसी की विदाई का वक्त आ गया है.”

इससे पहले, ममता सरकार ने लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार करने को BJP की रथ यात्रा को भी मंजूरी नहीं दी थी. दोनों पार्टियों के बीच तनातनी सुप्रीम कोर्ट तक पहुंची. बंगाल सरकार ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को भी हेलिकॉप्‍टर उतारने की इजाजत नहीं थी, जिसके बाद वे सड़क के रास्‍ते सभा करने गए थे.

चुनाव आयोग से शिकायत कर चुकी है BJP

पिछले सप्‍ताह बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग के पास गया था और ममता सरकार की शिकायत की थी. तब BJP ने कहा था कि बंगाल सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सार्वजनिक रैलियों को बाधित करने की योजना बना रही है.

अप्रैल में पीएम मोदी ने एक चुनावी रैली में आरोप लगाया था कि उनकी रैली में लोगों को आने से रोकने के प्रयास किए जा रहे हैं. तृणमूल कांग्रेस के उसी जगह पर ममता की रैली के लिए मंच के निर्माण को रोकने से इनकार कर देने के बाद मोदी की शनिवार की रैली को लेकर अनिश्चितता पैदा हो गई थी. ममता के मंच से 30 मीटर की दूरी पर भाजपा ने मोदी की रैली के लिए मंच बनाया था.

ये भी पढ़ें

हमले के बाद रो पड़ीं बीजेपी उम्मीदवार भारती घोष, TMC कार्यकर्ताओं पर गुंडागर्दी का आरोप

FB पर शेयर की ममता बनर्जी की मॉर्फ्ड फोटो, BJP की महिला कार्यकर्ता गिरफ्तार