5 साल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी, अमित शाह बोले- अबकी बार होगी जबरदस्त जीत

पूरी दुनिया में भारत को एक शक्ति के रूप में स्थापित करने का काम मोदी सरकार ने किया है- अमित शाह

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ पार्टी ऑफिस में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए. इस दौरान अमित शाह ने सबसे पहले पत्रकारों को संबोधित किया और मोदी सरकार के पांच सालों का पूरा लेखा-जोखा पेश किया. अमित शाह के बाद पीएम नरेंद्र मोदी पत्रकारों के सामने अपनी बात रखी.

पीएम मोदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोली ये  बातें 

– ऐसा पहली बार होगा जब पूर्ण बहुमत वाली सरकार दोबारा पूर्ण बहुमत से काबिज होने जा रही है.

– पांच साल में देश ने जो मेरा साथ दिया उसको धन्यवाद दिया.

– मैं मानता हूं कि कुछ बातें हम गर्व के साथ दुनिया से कह सकते हैं. ये दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, ये लोकत्रंत की ताकत दुनिया के सामने ले जाना हम सबका दायित्व है. हमें विश्व को प्रभावित करना चाहिए कि हमारा लोकतंत्र कितनी विविधताओं से भरा है.

-चुनाव शानदार रहा, एक सकारात्मक भाव से चुनाव हुआ. पूर्ण बहुमत वाली सरकार पांच साल पूरे करके दोबारा जीतकर आए ये शायद देश में बहुत लंबे अर्से के बाद हो रहा है। ये अपने आप में बड़ी बात है.

– मैंने अपना चुनावी प्रचार शुरु किया मेरठ से जहां 1857 क्रांति की शुरु हुई और खत्म किया मध्यप्रदेश में जहां का एक आदिवासी भीमानायक उस क्रांति में शामिल हुआ था.

हमने बूथ और शक्ति केंद्रों की रचना के साथ जितने चुनाव आए लगभग सभी में हमने सफलता प्राप्त की. 2014 में हमारे पास 6 सरकारें थीं आज हमारे पास 16 सरकारें हैं. जब मैं चुनाव के लिए निकला और मन बनाकर निकला था और अपने को उसी धार पर रखा. मैंने देशवासियों को कहा था कि 5 साल मुझे देश ने जो आशीर्वाद दिया उसके लिए मैं धन्यवाद देने आया हूं. अनेक उतार चढ़ाव आए, लेकिन देश साथ रहा। मेरे लिए चुनाव जनता को धन्यवाद ज्ञापन था.

16 मई को पिछली बार रिजल्ट आया था और 17 मई को एक दुर्घटना हुई थी, 17 मई को सट्टाखोरों को मोदी की हाजिरी का बड़ा नुकसान हुआ था. सट्टा लगाने वाले तब सब डूब गये थे, यानी ईमानदारी की शुरुआत 17 मई को हो गई थी.

नई सरकार बनना जनता ने तय कर लिया है. हमने संकल्प पत्र में देश को आगे ले जाने के लिए कई बातें कही हैं. जितना जल्दी होगा, उतना जल्दी नई सरकार अपना कार्यभार लेगी. एक के बाद एक करके निर्णय हम लेंगे.

अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं ये अहम बातें

1- पूर्ण बहुमत की सरकार बनने जा रही है.
2- हर 15 दिन  में एक नई योजना लाए. लगभग 133 योजनाओं का हम पांच साल में लेकर आए.- शाह
3- संगठन हमारे सभी कामों का आधार
4- चुनाव अभियान में जनता हमसे आगे चल रही है
5- नरेंद्र मोदी के प्रयोग को जनता ने स्‍वीकारा
6- 2014 में हमारे पास 6 सरकारें थीं, आज हमारे पास 16 सरकारें हैं, एक समय भारतीय जनता पार्टी के पास 19 सरकारें थीं
7- मोदी के साथ देश सुरक्षित है.
8- इस बार विपक्ष ने महंगाई का मुद्दा नहीं उठाया.
9-सरकार के काम को अंतिम व्‍यक्ति तक पहुंचाया गया.
10- संगठन हमारे सभी कामों का आधार रहा है
11- नरेंद्र मोदी प्रयोग को जनता ने स्वीकारा है नरेंद्र मोदी की सर्कार फिर से बनाने जा रही है
12- सरकार के काम को अंतिम आदमी तक पहुँचाया है
13- आज देश का हर आदमी सुरक्षित महसूस कर रहा है
14- देश एक बार फिर मोदी सरकार बनाना चाहा रहा है
15- भाजपा जनसंघ के समय से और भाजपा के बनने के बाद से संगठनात्मक तरीके से काम करने वाली पार्टी रही है.
16- संगठन हमारे सभी कामों का प्रमुख अंग रहा है.
17- ये चुनाव आजादी के बाद के चुनाव में भाजपा की दृष्टि से सबसे ज्यादा मेहनत करने वाला, सबसे विस्तृत चुनाव अभियान रहा है.
18- इस चुनाव में हमारा अनुभव के अनुसार जनता हमसे आगे आगे रही है.
19- मोदी सरकार फिर से बनाने के लिए जनता का उत्साह भाजपा से आगे रहा है.
20 – देश के सम्मान को बढ़ाने का काम हमारी सरकार ने किया है.
21- पूरी दुनिया में भारत को एक शक्ति के रूप में स्थापित करने का काम मोदी सरकार ने किया है.
22- भाजपा जनसंघ के समय से और भाजपा के बनने के बाद से संगठनात्मक तरीके से काम करने वाली पार्टी रही है.
23- संगठन हमारे सभी कामों का प्रमुख अंग रहा है.
24- देश के सम्मान को बढ़ाने का काम हमारी सरकार ने किया है.
25- पूरी दुनिया में भारत को एक शक्ति के रूप में स्थापित करने का काम मोदी सरकार ने किया है.
26- देश के गरीब, किसान, महिला, गांव, शहर समाज के हर वर्ग को हमारी सरकार की 133 योजनाएं ने छुआ है.
27- 133 योजनाओं के आधार पर देश में नई चेतना की जागृति हुई है.
28- हमने 50 करोड़ गरीबों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाया है. उन्हें आधारभूत सुविधाएं देकर एहसास दिया है कि देश के विकास में उनकी भी हिस्सेदारी है.
29- हमने बूथ और शक्ति केंद्रों की रचना के साथ जितने चुनाव आए लगभग सभी में हमने सफलता प्राप्त की. 2014 में हमारे पास 6 सरकारें थीं आज हमारे पास 16 सरकारें हैं.