’84 में जो हुआ वो हुआ’ बयान के बाद सैम पित्रोदा ने ट्वीट की गोल्‍डन टेंपल की तस्‍वीर

सैम पित्रोदा ने 1984 सिख दंगे को लेकर एक बयान दिया था, जिसपर विवाद खड़ा हो गया था. अब उन्होंने BJP पर बयान को गोल घुमाकर पेश करने का आरोप लगाया है.

नई दिल्ली. इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने “अपनी बातों को मोड़ने और तथ्यों को विकृत करने” के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि BJP ऐसा अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए कर रही है. पित्रोदा ने पुष्टि की है कि उन्होंने 1984 के सिख विरोधी दंगे के दौरान सिखों के दर्द को स्वीकार किया था. बता दें कि, सैम पित्रोदा ने गुरुवार को पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए 1984 सिख दंगों को लेकर विवादित बयान दिया था.

पित्रोदा ने कहा था कि- ‘अब क्या है 84 का? आपने पांच साल में क्या किया उसकी बात करिए. 84 में जो हुआ वो हुआ, आपने क्या किया.’

मोदी के इस भाषण के बाद आया था पित्रोदा का बयान

पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को रामलीला मैदान में एक चुनावी जनसभा के दौरान सिख विरोधी दंगों पर कांग्रेस को घेरा था.  पीएम ने कहा था कि ‘कांग्रेस को बताना पड़ेगा कि 1984 के सिख दंगों का हिसाब कौन देगा? कांग्रेस को बताना पड़ेगा कि सिख दंगों से जुड़े लोगों को सीएम बनाना कौन सा न्याय है? कांग्रेस ने जो देश के साथ अन्याय किया, हम उसे कम करने की कोशिश कर रहे हैं. तीन दशक बाद 1984 के दंगों के आरोपी सलाखों के पीछे पहुंचे हैं. हमने बीते पांच वर्ष में सत्ता के दलालों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है. इन्होंने जनपथ को दलालों का पथ बना दिया था.’

सैम पित्रोदा ने अपने ट्विटर अकाउंट से गोल्‍डन टेंपल की कुछ तस्‍वीरें भी पोस्‍ट की हैं. इसमें वह अपने परिवार संग नजर आ रहे हैं.

बयान को तोड़मोड़ रही BJP: पित्रोदा   

पित्रोदा ने ट्वीट के माध्यम से BJP पर बयान को तोड़मोड़ के पेश करने का आरोप लगाया. उन्होंने ट्वीट किया, “मैंने देखा है कि कैसे BJP मेरे साक्षात्कार के तीन शब्दों को तथ्यों को विकृत करने, हमें विभाजित करने और अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए घुमा रही है. दुख की बात है कि उनके पास पेशकश करने के लिए कुछ भी सकारात्मक नहीं है.” पित्रोदा ने आगे ट्वीट किया “मैंने 1984 में कठिन समय के दौरान अपने सिख भाइयों और बहनों के दर्द को समझा और उन अत्याचारों को गहराई से महसूस किया जो हुआ.”

उन्होंने आगे ट्वीट करते हुए कहा कि इस चुनाव में अतीत की बातों को लाने का कोई मतलब नहीं है. ये चुनाव मोदी ने सत्ता में 5 साल रहते हुए क्या किया उसपे होना चाहिए. पित्रोदा ने सिख दंगे में राजीव गांधी की भूमिका पर कहा कि, ‘राजीव गांधी और राहुल गांधी कभी भी पंथ के आधार पर लोगों के समूह को निशाना नहीं बनाएंगे.’

ये भी पढ़ें: ट्वीटर पर भिड़ी कांग्रेस-भाजपा, राहुल गांधी के इस ट्वीट से शुरू हुई बहस

BJP मुद्दों से भटका रही है: पित्रोदा 

पित्रोदा ने ट्वीट कर BJP पर आरोप लगाया, ‘बीजेपी इन मुद्दों पर बात कर रही है और कांग्रेस नेताओं पर झूठ के सहारे हमला बोल रही है क्योंकि वे अपने प्रदर्शन के बारे में बात नहीं कर सकते हैं और जॉब्स, बच्चों और अधिक नौकरियों पर ध्यान देने के साथ सभी के लिए समावेशी विकास और समृद्धि के लिए भारत को आगे ले जाने के लिए BJP के पास कोई वीजन नहीं है.’

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी पित्रोदा के बयान का क्लिप अपने ट्विटर अकाउंट के माध्यम से साझा किया था.