इस लड़के को राजनीति में लाने के लिए मायावती ने किया बड़ा ऐलान

बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को बदायूं रैली में कहा, 'मैंने फैसला कर लिया है, इस लड़के को राजनीति में जरूर लाना चाहिए.' जानें उस लड़के के बारे में जिसे मायावती राजनीति में लाना चाहती हैं.

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के बदायूं में महागठबंधन की रैली के दौरान मायावती ने आखिरकार अपनी जुबान से असली बबुआ का जिक्र किया. इनका नाम है- आकाश, जो काफी समय से मायावती की हर रैली में मंच पर नजर आ रहे थे. इनके बारे में मीडिया में लगातार कयासबाजी चल रही थी, लेकिन शनिवार को बदायूं में मायावती ने आकाश के बारे में बड़ा ऐलान कर दिया.

मायावती ने कहा, ‘मेरे भाई का लड़का आकाश यहां बैठा है, मैंने फैसला कर लिया है, इस लड़के को राजनीति में जरूर लाना चाहिए.’

आकाश लंबे समय से मायावती की रैलियों में, पॉलिटिकल मीटिंग्‍स में नजर जरूर आ रहे थे, लेकिन उनके बारे में सार्वजनिक तौर से बसपा सुप्रीमो ने अब तक कुछ नहीं था. मायावती वंशवाद के खिलाफ आवाज उठाती रही हैं, शायद यही वजह रही कि उन्‍होंने आकाश के बारे में औपचारिक घोषणा करने में इतना समय लिया.


मायावती के असली बबुआ के बारे में कुछ फैक्‍ट्स

-आकाश के पिता आनंद, मायावती के छोटे भाई हैं.

-आकाश ने लंदन से MBA की पढ़ाई की है. आकाश पिछले कुछ समय से बुआ मायावती के साथ राजनीतिक रैलियों में सक्रिय हैं.

-इससे पहले सपा-बसपा ने जब 2019 लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन का ऐलान किया था, तब तेजस्‍वी यादव बसपा सुप्रीमो से मिलने आए थे. उस वक्‍त भी आकाश बुआ के साथ खड़े थे.

-अखिलेश यादव ने जब मायावती को शॉल पहनाकर उनका सम्‍मान किया था, तब भी आकाश साथ में खड़े थे.

-मायावती ने सहारनपुर हिंसा के वक्‍त जब दौरा किया था, उस वक्‍त आकाश भी उनके साथ थे.
-मेरठ में रैली के वक्‍त भी वह मंच पर दिखे थे. मायावती ने आकाश को भतीजा बताते हुए खुद उनका परिचय कराया था.

-मायावती ने अभी तक आकाश को कोई बड़ा पद नहीं सौंपा है, लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि उनकी सक्रियता से भविष्य में वह पार्टी का कामकाज देख सकते हैं.

ये भी पढ़ें- मायावती के फैसले से अखिलेश यादव को एक ही दिन में लगे ये दो बड़े झटके