वोट के जुगाड़ में डेरा सच्चा की शरण में पहुंचे कांग्रेस के ये नेता, देखें वीडियो

चुनाव नजदीक होने की वजह से तमाम पार्टियों के नेता डेरा सच्चा सौदा से समर्थन लेने की होड़ में दिख रहे हैं.
congress-leader-ashok-tanvar-wants-support-of-sirsa-dera-sacha-sauda-of-gurmeet-ram-rahim-for-loksabha, वोट के जुगाड़ में डेरा सच्चा की शरण में पहुंचे कांग्रेस के ये नेता, देखें वीडियो


नई दिल्ली: डेरा सच्चा सौदा की तरफ नेताओं का झुकाव शुरू से ही रहा है. पिछले चुनावों तक नेताओं के जाने पहचाने चेहरे बाबा राम रहीम के आस-पास नजर आए हैं. गौरतलब है कि बाबा रहीम अब जेल में कैद है. फिर भी चुनावी माहौल में डेरा सच्चा सौदा में नेताओं का आना जाना लगा हुआ है.

हाल ही में जारी हुए एक वीडियो के मुताबिक डेरा सच्चा सौदा की नाम चर्चा में सिरसा से कांग्रेस के उम्मीदवार अशोक तंवर ने शिरकत की. अशोक तंवर हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं.

गौरतलब है कि डेरा सच्चा सौदा में लाखों श्रद्धालुओं की तादाद है. ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियों इस ओर नजर गड़ाए बैठी हैं. डेरे से समर्थन मिलने के लिए नेता तरह-तरह के तर्क-वितर्क पेश कर रहे हैं. डेरा श्रद्धालुओं के से वोट जुटाने के लिए नेता हर तरह की तिकड़म में जुट गए हैं.

बता दें कि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को साध्वियों से छेड़छाड़ करने के मामले में जेल भेजा गया है. साल 2002 में डेरा आश्रम में रहने वाली एक साध्वी ने राम रहीम पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. इस मामले को लेकर हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की गई थी. साल 2001 में सीबीआई को जांच सौंपी गई थी. इसके बाद साल 2007 में कोर्ट ने केस पर सुनवाई शुरू की थी.

”खबरों के मुताबिक सुनारिया जेल अधीक्षक सुनील सांगवान ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर कांग्रेस के पक्ष में वोट डाले जाने के लिए बनाया दबाव बनाया है. जाहिर है कि डेरा सच्चा राम रहीम के इशारों पर ही चलता है और डेरे के सभी श्रद्धालुयों के वोट भी उसी ओर जाएंगे जिधर राम रहीम का झुकाव होगा.  

इसके साथ ही जेल अधीक्षक पर डेरा प्रेमियों व अन्य बंदी कर्मचारियों को डरा- धमका कर कांग्रेस के पक्ष में वोट करने के आरोप लगे हैं. इस मामले को सीरियस लेते हुए हरियाणा राज्य आयोग ने जांच के आदेश जारी किए हैं. मामले की जांच एसडीएम सांपला और डीएसपी रोहतक को सौंप दी गई है. जांच में आरोप साबित होने पर सुनील सांगवान का सुनारिया जेल से ट्रांसफर किया जा सकता है.”

Related Posts