‘पार्टी नहीं देगी सिंबल तो निर्दलीय चुनाव लड़ूंगा’, शकील अहमद का कांग्रेस को अल्‍टीमेटम

शकील अहमद ने कहा कि वह नामांकन भरने के बाद 18 अप्रैल तक कांग्रेस के सिंबल का इंतजार करेंगे.

पटना: कांग्रेस नेता शकील अहमद ने बिहार में महागठबंधन की मुश्किल बढ़ा दी है. शकील अहमद ने मधुबनी सीट से बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया. उन्होंने सोमवार को कहा कि वह 16 अप्रैल को नामांकन दाखिल करेंगे.

महागठबंधन के नेताओं के बीच बनी सहमति के हिसाब से मधुबनी लोकसभा सीट विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के खाते में गई है. मधुबनी सीट से आरजेडी का टिकट पाने की उम्मीद अली अशरफ फातमी लगाकर बैठे थे, लेकिन यह सीट ‘वीआईपी’ के खाते में जाने के बाद अली अशरफ ने भी बगावत करते हुए मधुबनी से लड़ने का ऐलान कर दिया.

इस सीट से सांसद रहे शकील अहमद भी सीट बंटवारे के बाद से ही पार्टी नेतृत्व के साथ बातचीत कर रहे थे, लेकिन पार्टी ने उनकी एक न सुनी और शकील अहमद ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया.

इस संबंध में शकील अहमद ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा- वह 16 अप्रैल को नामांकन दायर करेंगे. इस दौरान शकील अहमद के साथ कांग्रेस विधायक भावना झा और कांग्रेस के विधानसभा प्रत्याशी रहे शब्बीर अहमद भी मौजूद रहे.

शकील अहमद ने कहा कि वह नामांकन भरने के बाद 18 अप्रैल तक कांग्रेस के सिंबल का इंतजार करेंगे. इस घोषणा के साथ ही शकील अहमद ने कांग्रेस पार्टी को अल्टीमेटम भी दे दिया है. उन्होंने कहा है कि अगर कांग्रेस पार्टी सिंबल नहीं देती है तो वह निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ेंगे.

ये भी पढ़ें- बीजेपी ने गोरखपुर से रवि किशन को मैदान में उतारा, कई सांसदों के टिकट काटे

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी ने ट्वीट कर आप से गठबंधन को लेकर कही बड़ी बात, संजय सिंह ने दिया जवाब