SP-BSP उम्मीदवार को कहा था ‘बाबर की औलाद’, चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ को भेजा नोटिस

नोटिस भेजने के साथ ही चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ से 24 घंटे में जवाब देने के लिए कहा है.

लखनऊ: लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान पहले ही 72 घंटों का प्रतिबंध झेल चुके उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता योगी आदित्यनाथ पर एक बार फिर से प्रतिबंध लगाया जा सकता है. दरअसल योगी आदित्यनाथ को चुनाव आयोग ने विवादित बयान को लेकर नोटिस भेजा है. साथ ही 24 घंटे में जवाब देने के लिए कहा है.

दरअसल योगी आदित्यनाथ ने संभल में एक जनसभा को संबोधित करते हुए एसपी-बीएसपी गठबंधन के उम्मीदवार शफिकुर्रहमान बर्क को बाबर की औलाद कहा था. इसी बयान को लेकर चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता को नोटिस जारी किया है.

योगी ने संभल में चुनावी सभा के दौरान कहा था, “जब मैं सांसद था तो मैंने एक बार एसपी के उम्मीदवार जो खुद सांसद थे, उनसे उनके पूर्वजों के बारे में पूछा. उन्होंने कहा कि हम बाबर के उत्तराधिकारी हैं. मैं हैरान था. एक तरफ, एक ऐसी पार्टी का उम्मीदवार है जो बाबा भीमराव अंबेडकर और गौतम बुद्ध से जुड़े स्थानों का विकास करता है, दूसरी तरफ विपक्ष का उम्मीदवार है जो खुद को बाबर की औलाद कहता है. जो वंदे मातरम नहीं गाना चाहता, जो बाबा साहब को माला पहनाने में असहज महसूस करता है वह आपके वोट के काबिल नहीं है.”

ये भी पढ़ें: कांग्रेस का दावा UPA सरकार के समय हुई थीं 6 सर्जिकल स्ट्राइक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *