चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को दी क्लीन चिट, कांग्रेस ने इन भाषणों को लेकर दर्ज कराई थी शिकायत

चुनाव आयोग ने पीएम मोदी से जुड़े 5 मामलों में फैसला दिया है. इन सभी शिकायतों पर आयोग ने उन्हें क्लीन चिट दी है.

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को दो अन्य भाषणों पर शिकायत के मामले में क्लीन चिट दे दी है. आयोग ने पीएम मोदी के सशस्त्र बलों को लेकर दिए बयान में दोषी नहीं माना है.

चुनाव आयोग ने वाराणसी (Varanasi) में पीएम मोदी (PM Modi) के भाषण और महाराष्ट्र के नांदेड़ में पीएम मोदी की उस स्पीच में भी कुछ गलत नहीं पाया, जिसमें उन्होंने कांग्रेस (Congress) को ‘डूबता टाइटेनिक’ करार दिया था. इन दो मामलों में क्लीन चिट के साथ ही चुनाव आयोग ने पीएम मोदी से जुड़े 5 मामलों में फैसला दिया है. इन सभी शिकायतों पर आयोग ने उन्हें क्लीन चिट दी है.

चुनाव आयोग ने कहा, ‘महाराष्ट्र के नांदेड़ में 6 अप्रैल को पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण में आचार संहिता का उल्लंघन नहीं पाया गया है. जिले के रिटर्निंग ऑफिसर से इस संबंध में विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई थी, जिसके बाद इस पर फैसला लिया गया.’

जानकारी के लिए बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने नांदेड़ की अपनी रैली में कांग्रेस को टाइटेनिट की तरह डूबता हुआ जहाज करार दिया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक इस रैली में उन्होंने कहा था कि कांग्रेस टाइटेनिक की तरह डूबता हुआ जहाज है, जिससे नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी जैसे उसके सहयोगी या तो भाग रहे हैं या फिर डूब रहे हैं.

इसके अलावा पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी(Rahul Gandhi) पर भी बयान दिया था. पीएम मोदी ने कहा था कि वह माइक्रोस्कोप से एक ऐसी सीट की तलाश में हैं, जहां से बैठकर वह बीजेपी पर निशाना साध सकें. पीएम मोदी ने इस भाषण में राहुल गांधी पर केरल की वायनाड सीट से लड़ने को लेकर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि उन्होंने इस सीट से लड़ने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि यहां देश की बहुसंख्यक आबादी अल्पसंख्यक है.