अखिलेश यादव, आजम खान समेत इन नेताओं ने लगाया EVM में गड़बड़ी का आरोप

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे देश में 350 से ज्यादा ईवीएम को बदला जा रहा है. ये आपराधिक लापरवाही है.
Lok Sabha Election 2019, अखिलेश यादव, आजम खान समेत इन नेताओं ने लगाया EVM में गड़बड़ी का आरोप

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण का मतदान मंगलवार को किया रहा है. इस दौरान 16 राज्यों की 116 सीटों पर वोटिंग जारी है. इस बीच अलग-अलग राज्यों से ईवीएम के खराब होने या फिर ईवीएम टेंपरिंग की खबरें आ रही हैं. चलिए जानते हैं कि इस तरह की शिकायतें अबतक कहां-कहां से आई हैं.

आजम खान ने लगाया आरोप
उत्तर प्रदेश की रामपुर लोकसभा सीट से ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें आई हैं. सपा प्रत्याशी आजम खान ने आरोप लगाया कि यहां के विभिन्न बूथों पर ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा रही है.

आजम खान ने कहा कि ‘बीजेपी जानती है कि रामपुर से उनके पिता आजम को बड़ी जीत हासिल करने जा रहे हैं. इसलिए वो ईवीएम से छेड़छाड़ कर रही है.’

उन्होंने आरोप लगाया है कि रामपुर लोकसभा क्षेत्र में 300 से ज्यादा EVM मशीनें काम नहीं कर रही हैं. मशीनों के खराब होने से वोटिंग काफी धीमी चल रही है. साथ ही पुलिस यहां लोगों को धमका रही है.

‘कांग्रेस का वोट BJP  को जा रहा’
केरल के कोवालम में बूथ नंबर 151 पर ईवीएम टेंपरिंग मीडिया में खबरें आई थीं. रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि कांग्रेस को दिया गया वोट भाजपा के खाते में जा रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केरल के कोवालम में मतदाताओं ने दावा किया कि ईवीएम में कांग्रेस की बटन दबाने के बाद भाजपा का सिंबल जल रहा है. इस टेंपरिंग पर नजर पड़ने से पहले ही बूथ पर 76 मतदाता अपना वोट डाल चुके थे.

हालांकि, चुनाव आयोग ने कुछ ही समय के अंदर मीडिया की इन रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया. आयोग ने कहा, “कुछ रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा था कि कोवालम में बूथ नंबर 151 पर कांग्रेस को दिए गए वोट भाजपा के खाते में जा रहे हैं. ये झूठी ख़बर है.”

UDF कार्यकर्ताओं के लगाए इस आरोप के बाद चुनाव आयोग तुरंत हरकरत में आ गया और बूथ नंबर 151 की सभी वोटिंग मशीनों को बदल दिया. इसके बाद बूथ पर दोबारा मतदान शुरू किया गया.

अखिलेश यादव ने भी उठाया मुद्दा
समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी देशभर में ईवीएम हो रही कथित गड़बड़ी का मुद्दा उठाया है. अखिलेश ने मीडिया की इस तरह की कई रिपोर्ट्स को ट्वीट करके अपनी बात रखी है.

उन्होंने ट्वीट किया, “पूरे देश में ईवीएम में या तो खराबी आ रही है या बीजेपी को वोट जा रहे हैं. जिलाअधिकारियों का कहना है कि मतदान अधिकारियों को ईवीएम चलाने की ट्रेनिंग नहीं दी गई है. 350 से ज्यादा ईवीएम को बदला जा रहा है. ये आपराधिक लापरवाही है जिस पर 50 हजार करोड़ खर्च किया जा रहा है”

अखिलेश ने कहा कि हमें जिलाअधिकारियों की बात पर भरोसा करना चाहिए या फिर ये किसी बड़ी साजिश को ओर इशारा करता है.

गठबंधन प्रत्याशी शफीकुर्रहमान बर्क़ का आरोप
संभल में गठबंधन प्रत्याशी एवं पूर्व सांसद शफीकुर्रहमान बर्क़ ने भी ईवाएम में खराबी का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि यहां पर मुस्लिम बहुल इलाकों में ईवीएम गड़बड़ियां पाई जा रही हैं. संभल लोकसभा सीट पर बर्क़, बीजेपी प्रत्याशी परमेश्वर लाल सैनी और कांग्रेस उम्मीदवार मेजर जगतपाल सिंह के बीच है.

Read Also: थर्ड फेज वोटिंग LIVE: मिलने वाला है देश को नया प्रधानमंत्री, बोले अखिलेश यादव

Related Posts