Exclusive Video:मीडिया को खरीदने की कोशिश करते कैमरे में कैद हुए BJP नेता

लेह प्रेस क्लब (Press Club Leh ) का पत्र सामने आने के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना ने धमकी दी है कि यदि प्रेस क्लब सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगता तो मानहानि का मुकदमा दायर किया जाएगा.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के रण में जम्मू-कश्मीर से एक बड़ा मामला सामने आया है, जहां पर लेह प्रेस क्लब (Leh Press Club) ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर पत्रकारों को पैसा बांटने का आरोप लगाया है. इस घटना का CCTV फुटेज सामने आया है जिसमें बीजेपी नेता प्रेस क्लब में मौजूद पत्रकारों को पैसा बांटते दिख रहे हैं.

CCTV फुटेज में देखा जा सकता है कि कार्यक्रम खत्म होने के बाद प्रेस क्लब में मीडियाकर्मी मौजूद हैं और थोड़ी देर बाद ब्लैक जैकेट पहने एक व्यक्ति पत्रकारों को एक लिफाफा देता है. लिफाफा मिलने के बाद पत्रकार एक-एक करके वहां से निकल जाते हैं.

लेह प्रेस क्लब के मुताबिक, बीजेपी ने क्लब के सदस्यों को पैसों से भरे लिफाफों की पेशकश कर रिश्वत देने की कोशिश की. लेह प्रेस क्लब के इस आरोप के बाद देश में घमासान मच गया है.

बीजेपी ने इस आरोप से इनकार करते हुए कहा है कि आरोप ‘राजनीति से प्रेरित’ है. इस आरोप के बाद विपक्षी पार्टियों ने भी बीजेपी को घेर लिया है. इतना ही नहीं विपक्ष ने बीजेपी को घेरते हुए चुनाव आयोग और जम्मू-कश्मीर पुलिस से इस मामले में कार्रवाई करने की मांग की है.

लेह प्रेस क्लब (Press Club Leh ) का पत्र सामने आने के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना ने धमकी दी है कि यदि प्रेस क्लब सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगता तो मानहानि का मुकदमा दायर किया जाएगा.

रवींद्र रैना ने कहा, “बीजेपी इस तरह के आरोपों को बर्दाश्त नहीं करेगी. अगर प्रेस क्लब सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगता तो हम उच्च न्यायालय में मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे”.