कंप्यूटर बाबा पर FIR, अनुष्‍ठान में दिग्विजय सिंह को बुलाकर किया था प्रचार

धार्मिक कार्यक्रम बताकर संत समागम की अनुमति ली गई थी, लेकिन दिग्विजय के पहुंचने के बाद यह कार्यक्रम राजनीतिक हो गया था.

भोपाल: कंप्‍यूटर बाबा के खिलाफ आचार संहिता उल्‍लंघन के मामले में एफआईआर दर्ज कराई गई है. 7 मई को भोपाल में कांग्रेस प्रत्‍याशी दिग्विजय सिंह के पक्ष में साधु-संतों ने प्रचार किया था. कंप्‍यूटर बाबा ने हठयोग का आयोजन किया था, जिसमें दिग्विजय को बुलाकर उनका प्रचार किया गया था. चुनाव आयोग ने दिग्विजय को अनुष्‍ठान में बुलाने पर आपत्ति जताई. कंप्‍यूटर बाबा के खिलाफ कोहेफिजा थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत केस दर्ज कराया गया है.

चुनाव आयोग ने 9 मई को एक नोटिस भेजकर 24 घंटों के भीतर कंप्‍यूटर बाबा से जवाब मांगा था. इस कार्यक्रम को धार्मिक कार्यक्रम बताकर संत समागम की अनुमति ली गई थी, लेकिन दिग्विजय के पहुंचने के बाद यह कार्यक्रम राजनीतिक हो गया था. भाजपा ने इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग से की थी.

प्रज्ञा ठाकुर से है दिग्विजय का मुकाबला

भोपाल संसदीय क्षेत्र पर वर्ष 1984 के बाद से भाजपा का कब्जा है. भोपाल संसदीय क्षेत्र में अब तक हुए 16 चुनाव में कांग्रेस को छह बार ही जीत हासिल हुई है. भोपाल में 12 मई को मतदान हो चुका है. भोपाल संसदीय क्षेत्र में 19.50 लाख मतदाता हैं, जिसमें चार लाख मुस्लिम, साढ़े तीन लाख ब्राह्मण, साढ़े चार लाख पिछड़ा वर्ग, दो लाख कायस्थ, सवा लाख क्षत्रिय वर्ग से हैं. भोपाल संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस के उम्मीदवार सिंह का मुकाबला भाजपा की साध्वी प्रज्ञा ठाकुर से है.

ये भी पढ़ें

भंडारे और पूजा के बहाने बुलाकर दिग्विजय सिंह जैसे राक्षस का कराया प्रचार- साधुओं का आरोप

प्रज्ञा ठाकुर का ट्विटर वेरिफाइड हुआ, एक कमी रह गई!