चुनाव जीतने के लिए बीजेपी ने गोधरा की तरह रची पुलवामा हमले की साजिश: शंकरसिंह वाघेला

शंकरसिंह वाघेला से पहले कई राजनेता केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगा चुके हैं कि पुलवामा हमला लोकसभा चुनाव जीतने के लिए एक सोची-समझी साजिश थी.

सूरत: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने सीआरपीएफ काफिले पर हमला कर दिया था, जिसमें 40 जवान शहीद हुए. वहीं इस हमले को लेकर कई राजनीतिक दलों ने केंद्र की मोदी सरकार को घेरा और साथ ही ये आरोप भी लगाए कि लोकसभा चुनावी फायदे के लिए यह हमला एक सोची-समझी साजिश थी.

वहीं अब इसी तरह का बयान गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकरसिंह वाघेला ने दे दिया है. शंकरसिंह वाघेला का कहना है कि पुलवामा हमला गोधरा कांड की तरह भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की साजिश थी.

एएनआई के मुताबिक, वाघेला ने कहा, “बीजेपी सरकार चुनाव जीतने के लिए आतंकवाद का इस्तेमाल कर रही है. पिछले पांच सालों में कई आतंकी हमले हुए हैं.” पुलवामा हमले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री बोले, “पुलवामा हमले के लिए जिस गाड़ी का इस्तेमाल किया गया, उसका शुरुआती रजिस्ट्रेशन गुजरात (GJ) का था.”

कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी का हाथ पकड़ने वाले वाघेला ने आगे कहा, “बालाकोट एयरस्ट्राइक में किसी की मौत नहीं हुई. इतना ही नहीं किसी अंतरराष्ट्रीय एजेंसी ने भी ये साबित नहीं किया कि 200 आतंकी मारे गए. बालाकोट एयरस्ट्राइक एक सोची-समझी साजिश थी.”

बीजेपी पर निशाना साधते हुए वाघेला आगे बोले, “पुलवामा हमले को लेकर खुफिया एजेंसी से मिली जानकारी के बावजूद, हमले से पहले कोई सख्त कदम नहीं उठाए गए. अगर आपके बालाकोट को लेकर पहले सूचना थी, तो आपने उन कैम्प पर कार्रवाई क्यों नहीं की. क्यों आप पुलवामा हमले जैसा कुछ होने का इंतजार कर रहे थे. इस सबमें बीजेपी शामिल है, जिससे वे चुनाव जीत सकें.”