मुझे किसी शत्रुघ्न सिन्हा की जरूरत नहीं, कांग्रेस प्रत्याशी ने खुद के चुनाव प्रचार को लेकर कहा

कांग्रेस प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा, "इस लोकसभा चुनाव में दो विचारधाराओं की लड़ाई है, एक देश मे नफरत फैलाना चाहती है, एक जो देश को एक सूत्र में बांधना चाहते हैं.

लखनऊ: दूसरे चरण के मतदान होने में कुछ घंटों का वक्त बचा है. देश की संसद तक पहुंचने का रास्ता यूपी से होकर गुजरता है. यूपी की राजधानी लखनऊ का चुनाव काफी दिलचस्प हो गया है. लखनऊ सीट से बीजेपी ने राजनाथ सिंह को उतारा है जबकि गठबंधन ने पूनम सिन्हा और कांग्रेस ने आचार्य प्रमोद कृष्णम को टिकट दिया है.

कांग्रेस प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा, “इस लोकसभा चुनाव में दो विचारधाराओं की लड़ाई है, एक देश मे नफरत फैलाना चाहती है, एक जो देश को एक सूत्र में बांधना चाहते हैं. मैं चुनाव लखनऊ की जमीन को नमन करने के लिए आया हूं. यहां के लोगों ने बड़े-बड़े नेताओं को प्यार दिया है, लेकिन उनको प्यार वापस नहीं मिला.”

बीजेपी पर प्रहार
प्रमोद कृष्णम आगे कहते हैं कि पिछले पांच सालों में भाजपा ने देश को धोखा दिया है. रोज झूठ बोला है, कभी अयोध्या के नाम पर, कभी गाय के नाम पर. यहां के नेता जो मजबूत नेता हैं वो मौन साध रहे हैं. मैं गली-गली जाऊंगा और प्रेम का संदेश दूंगा. कांग्रेस के इस भवन को मैं मंदिर की तरह मानता हूं. लड़ाई लखनऊ की सत्ता में चूर लोगों से है जिन्होंने जनता को ठगा है.

राजनाथ सिंह का सम्मान
प्रमोद कृष्णम ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी ने कभी नहीं कहा कि मुझे नोटबंदी के नाम पर वोट दे दो, मुझे जीएसटी के नाम पर वोट दे दे. प्रमोद कृष्णम ने बीजेपी प्रत्याशी राजनाथ सिंह के लिए कहा, “मैं सम्मान करता हूं, लेकिन जो राम के नहीं हुए वो राष्ट्र के क्या होंगे.

शत्रुघ्न सिन्हा पर तंज
आचार्य प्रमोद कृष्णम ने यूपी के महागठबंधन पर भी निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि 37-38 सीट पर लड़कर ये सिर्फ भाजपा या कांग्रेस में आएंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे किसी शत्रुघ्न सिन्हा की जरूरत नहीं है.

पार्टी के खिलाफ प्रचार करेंगे शत्रुघ्न सिन्हा
गौरतलब है कि लखनऊ सीट से शत्रघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा बतौर गठबंधन प्रत्याशी चुनाव लड़ रही हैं. बुधवार दोपहर बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि लखनऊ सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा सपा के लिए प्रचार करेंगे यानि शॉटगन पत्नी पूनम सिन्हा के लिए वोट मांगेगे. जबकि शत्रुघ्न सिन्हा खुद कांग्रेस के प्रत्याशी हैं. इससे साफ होता है कि लखनऊ सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा अपनी ही पार्टी के खिलाफ प्रचार करते नजर आएंगे.