Exclusive: जया प्रदा बोलीं- आजम के डर से नहीं छोडूंगी रामपुर, पार्टी से बाहर करें अखिलेश

उन्होंने समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी आजम पर इसलिए कार्यवाही नहीं कर रही है क्योंकि उन्हें मुसलमानों के वोट चाहिए.


लखनऊ: आजम खान के विवादित बयान को लेकर जया प्रदा ने उनपर पलटवार किया है. साथ ही जया प्रदा ने समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव से अपील करते हुए आजम को पार्टी से निकालने की बात कही है. जया प्रदा ने कहा कि वह अखिलेश को वह भाई कहती हैं साथ ही अपील करती हैं कि वह इसे (आजम खान को) पार्टी से बाहर निकालें. हालांकि उन्होंने समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी आजम पर इसलिए कार्यवाही नहीं कर रही है क्योंकि उन्हें मुसलमानों के वोट चाहिए.

आजम खान के बयान के बाद टीवी9 भारतवर्ष से खास बातचीत में जयप्रदा ने कहा कि वह बेहद तकलीफ में हैं. साथ ही उन्होंने आजम की सोच पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या महिलाओं के बारे में समाजवादी पार्टी की यही सोच है. जया प्रदा ने सवाल करते हुए कहा कि क्या उनकी उत्तर प्रदेश की बहू-बेटियों के बारे में भी यही सोच है? उन्होंने पार्टी प्रमुख अखिलेश के इस पूरे घटनाक्रम पर चुप्पी साधे रहने पर सवाल करते हुए कहा कि वह मुझे दीदी कहते हैं, वे अब क्या कर रहे हैं? जयाप्रदा ने कहा कि मैं आजम खान के डर से रामपुर नहीं छोडूंगी. यहां टिककर मैं उनका मुकाबला करूंगी.

आजम के बयान को लेकर रामपुर से बीजेपी की प्रत्यार्शी जया प्रदा ने कहा, ‘उन्होंने सारी लक्ष्मण रेखा पार कर दी हैं और वह अब चुनाव लड़ने के लायक नहीं हैं. मैं चुनाव आयोग से अपील करती हूं कि इनका चुनाव रद्द किया जाए.’ जया प्रदा ने कहा कि वह इस तरह के बयानों से काफी दुखी हैं और तखलीफ में हैं. वह इस तकलीफ को शब्दों में बयान नहीं कर सकती हैं. उन्होंने कहा कि यह बहुत ही निचला स्तर है. ये कोई औरत बर्दाश्त नहीं कर सकती.

मालूम हो कि पहले कई दफा आजम, जया प्रदा को अपनी बहन भी बता चुके हैं. इसपर जया प्रदा ने कहा कि मैं राखी की कसम खा कर कह सकती हूं कि यह इंसान बहन मान ही नहीं सकता है. इसकी नीयत में खोट है. जया प्रदा ने समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की चुप्पी को लेकर भी उनपर निशाना साधा.

उन्होंने कहा, ‘अखिलेश स्वार्थी है. उन्हें मुसलमानों का वोट चाहिए इसी लिए आजम खान को पार्टी से बाहर नहीं निकाल रहा. अखिलेश आपको मैं भाई मानती हूं. क्या अपनी बहन के अपनी दीदी के खिलाफ ऐसे बयान देने वाले को आप अपनी पार्टी में रहने देंगे.’