‘मोदी जी के मन में जो बादल है, उसमें रडार नहीं जा सकता’, PM के बयान पर कपिल सिब्‍बल का तंज

कांग्रेस नेता ने पूछा, "जिस देश का प्रधानमंत्री असत्‍य के आधार पर राजनीति करता है, जनता उसपर कैसे विश्‍वास करेगी?"

नई दिल्‍ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया बयानों पर निशाना साधा है. सिब्‍बल ने पीएम मोदी के रडार से जुड़े दावों पर तंज कसते हुए कहा कि “उनका (मोदी) मन का जो क्‍लाउड (बादल) है न, उसमें रडार नहीं जा सकता.” मोदी के ई-मेल और डिजिटल कैमरा के जिक्र पर सिब्‍बल ने कहा, “मोदीजी की एक खास‍ियत है कि बिना सोचे-समझे बयान दे देते हैं. जब डिजिटल कैमरा आया ही नहीं था, तब ये डिजिटल कैमरा से फोटो ले रहे थे. जब ई-मेल आया ही नहीं था, तब ई-मेल भेज रहे थे. जिस देश का प्रधानमंत्री असत्‍य के आधार पर राजनीति करता है, जनता उसपर कैसे विश्‍वास करेगी?

बीजेपी के कांग्रेस की ओर से गाली-गलौज से जुड़े सवाल पर कपिल सिब्‍बल ने कहा, “गाली-गलौज तो ये लोग दे रहे हैं हमारे पूर्व प्रधानमंत्री (राजीव गांधी) को. मैं समझता हूं कि उनसे साधारण प्रधानमंत्री ऐसा हुआ हो. जिनके मन में कोई भेदभाव नहीं था. किसी के खिलाफ कुछ नहीं करते थे. मैं तो वकील था, उस केस में जहां राजीव गांधी को बहाल किया गया. दूसरी तरह से मुकुल रोहतगी थे. हमने हाई कोर्ट में जब बहस की तो जज ने मुकुल से पूछा कि इनके (राजीव) खिलाफ कुछ है तो हमें बताओ. उन्‍होंने कई बार कार्रवाई स्‍थगित कराई और कुछ नहीं निकला तो निर्णय हमारे पक्ष में दे दिया.”

“BJP को अंदर से खतरा”

सिब्‍बल ने मायावती के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्‍होंने सही बोला. सिब्‍बल ने कहा, “हमको भी यही खबर है कि आरएसएस मोदी जी या अमित शाह को वापस नहीं लाएगा.” उन्‍होंने कहा कि “बीजेपी को अंदर से खतरा है. अमित शाह भी यह जानते हैं और इसीलिए वो वो गांधीनगर से लड़ रहे हैं. आरएसएस भी जानता है कि मोदी जी अगर फिर से आ गए तो संघ की राह पर नहीं चलेंगे.

ईवीएम के मुद्दे पर सिब्‍बल ने कहा कि “कुछ इलाकों में ईवीएम को गर्मी लग जाती है, लेकिन कुछ ही इलाकों में गर्मी लगती है. खराब होती है. जैसे अल्‍पसंख्‍यक या दलितों का इलाका हो तो ईवीएम खराब हो जाती है.”

सिब्‍बल ने कविता के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है.

“मोदी जी आप कांग्रेस मुक्‍त भारत क्‍यों चाहते हो
आप गांधी परिवार के नाम से इतना क्‍यों घबराते हो
पांच साल के राज तेरे में क्‍या पाया
खाली जेब करा के तून ठुकराया
कहते हो तुम पचास साल राज करोगे
और पीड़‍ित जनता का इलाज करोगे
मजदूर किसान व्यापारी बर्बाद हुए
लेकिन तेरे जुमले आबाद हुए”

ये भी पढ़ें

‘9 दिन में लौटेगा नेहरू काल’, लाइमलाइट में वापसी कर मणिशंकर अय्यर बोले- मैं उल्‍लू हूं पर…

आखिरी चरण के मतदान से पहले एक-दूसरे को साधने में जुटे क्षेत्रीय दल, बन रहे ये समीकरण