लालू प्रसाद यादव की जान को खतरा, राबड़ी देवी ने जताई आशंका

शिकायत के बाद होटवार जेल अधीक्षक के आदेश से नोटिस लगाया गया है. नोटिस में कानून व्यवस्था का हवाला देकर मुलाकात पर पाबंदी लगाई गई है.

पटना: पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भारत सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. राबड़ी देवी ने कहा है कि बीजेपी सरकार अस्पताल में ज़हर देकर लालू जी को मारना चाहती है. परिवार के किसी भी सदस्य को लालू जी से मिलने नहीं दिया जा रहा है। तमाम तरह की पाबंदियां लगाई जा रही है. भारत सरकार पगला गया है.

राबड़ी देवी ने ट्वीट करते हुए लिखा, “बीजेपी सरकार ज़हर देकर अस्पताल में लालू जी को मारना चाहती है. परिवार के किसी भी सदस्य को महीनों से मिलने नहीं दिया जा रहा है. भारत सरकार पगला गया है। नियमों को दरकिनार कर उपचाराधीन लालू जी के साथ तानाशाही सलूक किया जा रहा है. बिहार की जनता सड़क पर उतर गयी तो अंजाम बहुत बुरा होगा.

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने शनिवार को झारखंड में भाजपा की सरकार को तनाशाही सरकार बताते हुए अपने पति लालू प्रसाद की जान पर खतरे की आशंका जताई है.

राबड़ी देवी ने शनिवार को ट्वीट किया, “अस्पताल में उपचाराधीन लालू प्रसाद जी कानून के मुताबिक हर शनिवार तीन लोगों से मिल सकते हैं, लेकिन तानाशाह भाजपा सरकार ने इस पर भी रोक लगा दी है. मेरे बेटे को भी नहीं मिलने दिया. ये जहरीले लोग लालू जी के साथ साजिश कर उन्हें गंभीर नुकसान पहुंचा सकते हैं. उनकी जान को खतरा है.”

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद की पत्नी राबड़ी देवी ने अपने ट्विटर हैंडल पर रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार, होटवार के नोटिस बोर्ड की तस्वीर भी शेयर की है. इसमें लिखा है कि कानून व्यवस्था की समस्या को देखते हुए 20 अप्रैल को सजावार बंदी लालू प्रसाद से मुलाकात बंद रहेगी. उल्लेखनीय है कि चर्चित चारा घोटाले के कई मामलों में लालू प्रसाद इन दिनों रांची की होटवार जेल में सजा काट रहे हैं. स्वास्थ्य में गड़बड़ी के कारण वह इन दिनों रांची के एक अस्पताल रिम्स में भर्ती हैं.

जनता दल यूनाईटेड (जदयू) ने आरोप लगाया है कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव जेल से अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के टिकट बांट रहे हैं. उनके शिकायत के बाद होटवार जेल अधीक्षक के आदेश से नोटिस लगाया गया है. नोटिस में कानून व्यवस्था का हवाला देकर मुलाकात पर पाबंदी लगाई गई है.

सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव से मुलाकात करने के लिए शनिवार का दिन तय किया गया है. लालू इस वक्त रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाजरत हैं. जदयू ने लालू पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वो जेल से राजद उम्मीदवारों के लिए टिकट भी बांट रहे हैं और उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कोई और ट्वीट भी कर रहा है. इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग की और राजद के सभी उम्मीदवारों का नामांकन रद्द करने की मांग की है.

जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है. कुमार ने आयोग को लिखे पत्र में कहा गया है कि लालू जेल में रहते हुए लोकसभा चुनाव में अपने हस्ताक्षर से ही टिकट बांटा. तो क्या इसके लिए अदालत से इजाजत ली गई थी?