‘बाबर की औलाद के हाथों मे देश सौंपना चाहते हैं क्या’ – बैन हटते ही योगी ने फिर दिया विवादित बयान

जिस तरह की बयानबाजी संभल में योगी ने की, उस तरह के बयान को लेकर ही चुनाव आयोग ने उनके प्रचार करने पर बैन लगाया था.
Yogi Aditya Nath, ‘बाबर की औलाद के हाथों मे देश सौंपना चाहते हैं क्या’ – बैन हटते ही योगी ने फिर दिया विवादित बयान

संभल: चुनाव आयोग के ओर से लगाए गए 72 घंटे के बैन के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने संभल से चुनावी हुंकार भरते हुए एक बार फिर से विवादित बयान दे दिया है. रैली को संबोधित करते हुए यहां योगी आदित्य नाथ ने अपने विरोधियों को बाबर की औलाद बता डाला.

रैली को संबोधित करते हुए सूबे के सीएम ने कहा, “बाबर की औलाद के हाथों मे देश सौंपना चाहते हैं क्या? आज कोई प्रदेश में दंगा करने का प्रयास नहीं कर सकता. अखिलेश राज में मंदिरों का बुरा हाल था.”

वहीं समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को घेरते हुए योगी ने सपा-बसपा के झंडो को गुंडों का झंडा बताया. योगी ने कहा, “बहन बेटियों की इजज्त के साथ जो खिलवाड़ करेगा वो या तो जेल, या फिर उसका राम नाम सत्य होगा. सपा की सरकार आते ही कावड़ यात्रा पर रोक लगा दी गई थी. आज कोई प्रदेश में दंगा करने का प्रयास नहीं कर सकता. सपा के प्रत्याशी ने मुझसे कहा कि वो बाबर की औलाद है.”

इसके बाद कांग्रेस पर निशाना साधते हुए और अपनी जीत दावा ठोकते हुए योगी बोले, “राज्य में कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिलेगी. प्रदेश में हुए दो चरणों की सारी सीटें हम जीत रहें हैं.”

अपने प्रतिद्वंद्वियों के लिए इस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल करना किसी राज्य के मुख्यमंत्री के लिए शोभा नहीं देता है. जिस तरह की बयानबाजी संभल में योगी ने की, उस तरह के बयान को लेकर ही चुनाव आयोग ने उनके प्रचार करने पर बैन लगाया था.

 

Related Posts