81 साल की शीला दीक्षित लड़ेंगी चुनाव, कांग्रेस ने दिल्‍ली की छह सीटों के लिए तय किए उम्‍मीदवार

वरिष्‍ठ नेता अजय माकन को नई दिल्‍ली सीट से कांग्रेस ने प्रत्‍याशी बनाया है.

कांग्रेस ने दिल्‍ली की छह लोकसभा सीटों के लिए उम्‍मीदवार घोषित कर दिए हैं. आम आदमी पार्टी से गठबंधन न होने पाने के बाद माना जा रहा था कि पार्टी उम्‍मीदवारों के नाम का ऐलान कर सकती है। पूर्व सीएम शीला दीक्षित को नॉर्थ-ईस्‍ट दिल्‍ली से उम्‍मीदवार बनाया गया है. शीला ने टिकट मिलने पर कहा, “मुझे जो जिम्‍मेदारी मिली है, मैं उसका पूरी तरह से निर्वहन करने की कोशिश करूंगी. मैं पहले भी यहां (नॉर्थ-ईस्‍ट दिल्‍ली) से चुनाव लड़ चुकी हूं. मैं यहां के लोगों को जानती हूं और वे मुझे जानते हैं. हमने यहां से मेट्रो शुरू की, हमारी छवि लोगों के लिए काम करने वाले की है.”

कांग्रेस ने चांदनी चौक लोकसभा सीट से जेपी अग्रवाल, ईस्‍ट दिल्‍ली से अरविंदर सिंह लवली, नई दिल्ली से अजय माकन, नॉर्थ-वेस्‍ट दिल्‍ली से राजेश लिलोथिया, वेस्‍ट दिल्‍ली से महाबल मिश्रा को टिकट दिया है. माकन ने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस के सभी उम्‍मीदवार राजिंदर नगर स्थित कांग्रेस के केंद्रीय कार्यालय पर सुबह 11 बजे इकट्ठा होंगे. इसके बाद नामांकन दाखिल करेंगे.

Loksabha elections, 81 साल की शीला दीक्षित लड़ेंगी चुनाव, कांग्रेस ने दिल्‍ली की छह सीटों के लिए तय किए उम्‍मीदवार

AAP की तरफ से कोई जवाब न आने पर, कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेताओं ने कहा था कि वह जल्‍द ही प्रत्‍याशियों के नामों की घोषणा कर देंगे. दोनों दलों के बीच अब दिल्‍ली में गठबंधन के दरवाजे लगभग बंद हो चुके हैं. हरियाणा में दोनों दलों ने प्रत्‍याशियों की घोषणा की है.

दूसरी तरफ, बीजेपी ने दिल्‍ली के लिए चार उम्‍मीदवारों की घोषणा की है. केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन को चांदनी चौक से टिकट दिया गया है, जबकि दिल्‍ली बीजेपी अध्‍यक्ष मनोज तिवारी नॉर्थ-ईस्‍ट दिल्‍ली से चुनाव लड़ेंगे. वेस्‍ट दिल्‍ली से प्रवेश वर्मा और साउथ दिल्‍ली से रमेश बिधूड़ी को भी टिकट मिला है.

कांग्रेस के साथ गठबंधन की बातचीत जारी रहते ही AAP ने दिल्‍ली की सातों सीटों के लिए उम्‍मीदवार तय कर दिए थे. एंटी-बीजेपी वोट्स को एक साथ लाने के लिए दोनों पार्टियां साथ आने की कोशिश कर रही थी. AAP चाहती थी कि दिल्‍ली के साथ-साथ हरियाणा, चंडीगढ़ और पंजाब में भी गठबंधन हो, मगर कांग्रेस इसके लिए तैयार नहीं थी.