‘मोदी की तरह फर्जी नहीं हैं मुलायम’, मैनपुरी में बोलीं मायावती

चौबीस साल बाद मायावती और मुलायम सिंह यादव एक मंच पर साथ दिखाई दिए हैं. सपा,बसपा की रैलियों का ये चौथा पड़ाव मैनपुरी के लोगों के लिए बहुत ही खास रहा.

नई दिल्ली: 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान सपा और बसपा पार्टियों का माहौल भारतीय जनता पार्टी के सामने फीका पड़ गया था. अब दोनों पार्टियों ने लोकसभा चुनाव में साथ उतारने फैसला लिया है. हाल ही में मैनपुरी में हुई जनसभा में मुलायम सिंह यादव और मायावती 24 साल बाद एक मंच पर साथ दिखाई दिए.
जानिए मैनपुरी रैली के दौरान मायावती ने क्या क्या कहा…

  • मुलायम सिंह जी रियल पर्सन हैं और जन्मजात के पिछड़े वर्ग के हैं. वो भाजपा की तरह नकली या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जैसे फर्जी रूप से पिछड़े वर्ग के नहीं हैं. आप लोग मुलायम जी को मैनपुर सीट से रिकॉर्ड तोड़ वोटों से जिताएं. इसमें कोई संदेह नहीं है कि मुलायम ने सभी पार्टी के लोगों को अपनी पार्टी में जोड़ा है, खासकर कि पिछड़े वर्ग के लोगों को भी शामिल किया है.
  • मोदी ने गुजरात में प्रचार के वक़्त अपनी ऊंची जाती को पिछड़े वर्ग का घोषित कर लिया था, और चुनाव में इसका फायदा उठाया है. अग्रिम वर्ग का व्यक्ति कभी पिछड़ा व्यक्ति का भला नहीं कर सकता.
  • पूरे देश में पिछड़े वर्ग के लिए लाखों आरक्षित पद अभी भी खाली पड़े हैं, और ये नकली लोग भर्ती न कर पिछड़े वर्ग के लोगों के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. ऐसे में बेरोजगारी बढ़ रही है.
  • अब ऐसे नकली लोगों से धोखा खाने की जरुरत नहीं है. असली-नकली की पहचान कर ही अपने गठबंधन को कामयाब बनाना है. पिछड़ा वर्ग के असली नेता मुलायम जी हैं, उन्हीं को ही चुनकर भेजना है.’
  • आजादी के बाद काफी लंबे अरसे तक देश में ज्यादातर सत्ता कांग्रेस और उसके बाद भाजपा या अन्य पार्टियों के हाथ में रही है. लेकिन अब भाजपा की संकीर्णवादी और सांप्रदायिक नीतियों की वजह से उनकी सरकार वापस चली जाएगी. उनकी चौकीदारी की नाटकबाजी भी नहीं बचा पाएगी.
  • मोदी ने पिछले चुनाव में गरीबों, मुस्लिमों, पिछड़ा वर्ग और दूसरे अल्पसंख्यक या बाकी लोगों से अच्छे दिन के नाम पर जो चुनावी वादे किए थे, उसका एक चौथाई हिस्सा भी पूरा नहीं किया है. मोदी जी ने कहा था कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद 100 दिनों के अंदर विदेशों में जमा काला धन वापस लाएंगे और देश के हर गरीब व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपए डाले जाएंगे. मैं मैनपुरी के लोगों से पूंछती हूं क्या किसी को भी ये रुपए मिले?
  • अब कांग्रेस पार्टी क्या कर रही है, ये लोग पूरे देश में घूम-घूमकर कह रहे हैं कि सत्ता में आने के बाद गरीबों को थोड़ी सी आर्थिक मदद की जाएगी. लेकिन थोड़ी सी आर्थिक मदद से किसी का भला नहीं होने वाला है. यदि केंद्र हमारी पार्टी सत्ता में आने पर हाल आपको सरकारी और गैर सरकारी क्षेत्र में आपको नौकरी दिलाएंगे.