‘मोदी को गणतंत्र के थप्‍पड़ की सख्त जरूरत,’ ममता बनर्जी ने किया अब तक का सबसे बड़ा हमला

बिष्णुपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए भी ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा था कि वह सिर से पांव तक खून से सने हुए हैं.

कोलकाता: चुनावी समर में राजनेताओं की बयानबाजी का स्तर लगातार गिरता जा रहा है. मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने भी इसका उदाहरण पेश किया. पुरुलिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को थप्पड़ मारने तक की बात कह दी.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को ‘गणतंत्र के थप्पड़’ की जरूरत है. बनर्जी ने मंगलवार को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, “जब मोदी बंगाल में आते हैं और कहते हैं कि मैं एक टोलबाज हूं, तब मेरा मन करता है कि मैं उन्हें लोकतंत्र का जोरदार थप्पड़ मारू. इस लोकतंत्र के तमाचे की उन्हें सख्त जरूरत है.”

इससे पहले भी ममता बनर्जी पीएम मोदी को लेकर कई विवादित बयान दे चुकी हैं. हाल ही में बिष्णुपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी सिर से पांव तक खून से सने हुए हैं. इसी के साथ उन्होंने पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि जो इंसान पत्नी की देखभाल नहीं कर सकता वह भारतीयों को क्या संभालेगा.

ममता ने कहा मैं नहीं मानती उन्हें प्रधानमंत्री

ममता बनर्जी ने सोमवार को एक जनसभा में यह भी कहा था कि वह नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री नहीं मानती हैं इसीलिए उन्होंने फोनी तूफान को लेकर उनसे बात नहीं की थी. दरअसल पीएम मोदी ने फोनी तूफान के बाद कहा था कि ममता बनर्जी ने उनके अनुरोध का जवाब नहीं दिया था.

पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम में ममता बनर्जी ने एक रैली में कहा, “मैं उन्हें देश का पीएम नहीं मानती, इसलिए मैं मीटिंग में शामिल नहीं हुई. मैं उनके साथ एक ही मंच पर नहीं दिखना चाहती. मैं अगले पीएम से बात करूंगी. हम तूफान (फोनी) से होने वाले नुकसान को खुद ही संभाल सकते हैं. हमें चुनावों से पहले केंद्र की मदद की जरूरत नहीं है.” ममता बनर्जी ने यह बयान पीएम मोदी की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए किया था. पीएम मोदी ने उनपर तूफान को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया था.

ये भी पढ़ें: ममता का मोदी पर पलटवार, ‘उनके हाथ खून से सने, मैं उन्हें प्रधानमंत्री नहीं मानती’