ओपिनियन पोल: पश्चिम बंगाल में बीजेपी को मिलेगी बढ़त लेकिन जश्न टीएमसी ही मनाएगी

पश्चिम बंगाल में वोट प्रतिशत के मामले में सबसे ज्यादा नुकसान लेफ्ट फ्रंट को होने वाला है.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में चंद दिन बचे हैं और सभी राजनीतिक दल अपनी कमर कस चुके हैं. वहीं ओपिनियन पोल लगातार उनकी सांसें तेज कर रहे हैं. चुनाव के ठीक पहले सोमवार को आए टाइम्स नाउ वीएमआर के ओपिनियन पोल ने भी इसी प्रक्रिया को दोहराया है. इस ओपिनियन पोल के मुताबिक बीजेपी के लिए पश्चिम बंगाल में खुशखबरी तो आई है लेकिन शायद ऐसी भी नहीं कि वह झूम के जश्न मना सके.

ओपिनियन पोल के मुताबिक पश्चिम बंगाल में बीजेपी 9 सीटों पर जीत हासिल कर रही है. जो कि पिछले चुनावों से 7 सीटें ज्यादा है. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 2 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था. बंगाल में बीजेपी तृणमूल कांग्रेस को सीधे टक्कर देने का दावा ठोक रही है. हालांकि ओपिनियन पोल की मानें तो तृणमूल कांग्रेस को सीटों का कोई खासा नुकसान नहीं हो रहा है.

पोल की मानें तो टीएमसी को 31 सीटों पर जीत हासिल हो सकती है. यहां बता दें कि पिछली बार टीएमसी ने राज्य में 34 सीटों पर जीत हासिल की थी. ओपिनियन पोल के मुताबिक पश्चिम बंगाल में कांग्रेस को 2 सीटें मिल रही हैं. वहीं लेफ्ट फ्रंट को इस पोल में एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं होने वाली है.

बीजेपी के लिए इस ओपिनियन पोल में खास बात यह है कि उसके वोट प्रतिशत में लगभग दोगुनी बढ़त होगी. बीजेपी को साल 2014 में 16.8 प्रतिशत लोगों ने ही वोट दिया था, जो कि इस बार 31.3 प्रतिशत हो सकता है. वहीं कांग्रेस को भी पिछली बार की तुलना इस बार वोट प्रतिशत की मामूली बढ़त मिल रही है.

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के वोट प्रतिशत में भी मामूली स गिरावट देखी जा सकती है. पिछले लोकसभा चुनाव में टीएमसी को 39.4 फीसदी लोगों ने वोट दिया था. जबकि ओपिनियन पोल के मुताबिक इसबार उसे 37.5 प्रतिशत वोट मिलेंगे. वहीं बंगाल में सबसे ज्यादा नुकसान लेफ्ट फ्रंट को हो रहा है. लेफ्ट को पिछले चुनावों में 29.6 प्रतिशत वोट मिले थे, जिसमें इस बार 15.96 प्रतिशत वोटों की भारी गिरावट हो सकती है.