पीएम मोदी ने 2047 के लिए रखा ये लक्ष्‍य, BJP Manifesto के 10 Points

पीएम मोदी ने संकल्‍प पत्र जारी करते हुए राष्‍ट्रवाद को प्रेरणा, अंत्‍योदय को धर्म और सुशासन को मंत्र बताया, पढ़ें और क्‍या-क्‍या बोले प्रधानमंत्री.

नई दिल्‍ली: बीजेपी ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए सोमवार को संकल्‍प पत्र जारी कर दिया. पार्टी का विजन डॉक्‍यूमेंट पेश करते हुए पीएम मोदी ने तीन अहम बातें कहीं- राष्‍ट्रवाद हमारी प्रेरणा है, अंत्‍योदय हमारा धर्म और सुशासन हमारा मंत्र है.

1-पीएम मोदी ने कहा, ‘राजनाथ जी के नेतृत्व में हमारे अध्यक्ष जी ने जो कमेटी बनाई, उसने पिछले दो-तीन महीने लगातार मेहनत की और एक प्रकार से जन के मन की बात और उनकी आशा, अपेक्षा और आकांक्षाओं को डॉक्यूमेंट के रूप में ढाला. इसके लिए मैं पूरी टीम को बधाई देता हूं.’

2- पीएम मोदी ने कहा, ‘2022 में जब आजादी के 75 साल पूरे होंगे, तब देश के उन महापुरुषों, जिन्होंने आजादी की जंग लड़ी थी, उनके सपनों का भारत बनाने के लिए हमने 75 लक्ष्य तय किए हैं.

3- कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, ’50 साल का काम 5 साल में करना पड़ा. 5 साल देश उमंग और उत्साह के साथ चला. हमने देश की ज़रूरत पूरी की है अब हम देश की उम्मीदें पूरी करेंगे.’

4- प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम देश को समृद्ध बनाने के लिए, सामान्य मानवी के सशक्तिकरण को लेकर जन भागीदारी बढ़ाते हुए, लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देते हुए, हम वन मिशन, वन डायरेक्‍शन को लेकर आगे बढ़ेंगे. हमारे समाज में विविधताएं हैं. भाषाएं, जीवन स्तर, शिक्षा आदि की विविधता है. इसलिए विकास को मल्टीलेयर बनाने के लिए हमने अपनी योजनाओं को संकल्प पत्र में समाहित किया है.’

5- पीएम मोदी ने कहा, ‘देश को आगे बढ़ाने के लिए हमें मल्टी डायमेंश्‍नल लेवल पर काम करना होता है, इसका ध्यान हमने घोषणा पत्र बनाते हुए रखा है’.

6-पीएम मोदी ने कहा, ‘देश में पहली बार हम अलग जल शक्ति मंत्रालय बनाएंगे. हमने बजट में मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय की बात कही थी. माताओं बहनों के लिए नल से जल कैसे पहुंचाएं, इस पर हम काम कर रहे हैं.’

7-पीएम मोदी ने संकल्‍प पत्र का ऐलान करते हुए कहा कि 2014-19 हमारे सारे कामों को देखा जाए तो हमारे सभी कामों की रचना के मूल में सामान्य मानवी की आवश्यकताओं पर बल दिया गया है. आज देश के कई प्रदेशों में पानी की समस्या के समाधान को गंभीरता से सोचने की जरूरत है, इसलिए हम अलग ‘जल शक्ति मंत्रालय’ बनाएंगे.

8-पीएम मोदी ने कहा दिल्ली में एयर कंडीशन मैं बैठे लोग गरीबी को हरा नहीं सकते. गरीब ही गरीबी को परास्त कर सकता है. ये हमारा मंत्र है और इसलिए गरीबों के सशक्तिकरण को हमने बल दिया है.

9- पीएम मोदी ने कहा कि देश का विकास करने के लिए विकास को जन आंदोलन बनाने की जरूरत है और इसका सफल प्रयोग ‘स्वच्छता’ है. आज स्वच्छता जनआंदोलन बन गई है.

10- पीएम ने कहा, ‘हमारा संकल्प है कि 2047 में आज़ादी के सौ साल होने तक भारत विकासशील देश की जगह विकसित देशों की सूची में आ जाए’. उन्‍होंने कहा, ‘2047 का मजबूत फाउंडेशन का 2019 से 2024 तक रखना होगा.’

ये भी पढ़ें- BJP का घोषणा पत्र जारी, राजनाथ बोले- किसानों को 60 साल की उम्र के बाद देंगे पेंशन सुविधा

ये भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के बाद चुनाव नतीजे आने में हो सकती है देरी