‘ममता मेरे लिए पत्थरों की बात करती हैं, थप्पड़ों की बात करती हैं’- PM मोदी ने बंगाल में बोला हमला

पीएम नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की बांकुरा और पुरुलिया लोकसभा सीट पर जनसभा को संबोधित किया.

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के बांकुरा और पुरुलिया में गुरुवार को जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री मामता बनर्जी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि दीदी ने बंगाल को तबाह कर दिया है. साथ ही पीएम ने ये भी कहा कि मामता दीदी को अहंकार हो गया है और ये अहंकार ही उनको ले डूबेगा.

पीएम मोदी की बांकुरा रैली की बड़ी बातें- 

  • यहां भाजपा की रैली न हो पाए इसके लिए TMC सरकार ने पूरी शक्ति लगा दी थी. लेकिन जिस पर आपका आशीर्वाद हो, उसे आपके बीच आने से कोई नहीं रोक सकता.
  • दीदी कितनी परेशान है, उसका अंदाज़ा उनकी भाषा से लगाया जा सकता है. वो अब मेरे लिए पत्थरों की बात करती हैं, थप्पड़ों की बात करती हैं. मुझे तो गालियों की आदत है लेकिन बौखलाहट में दीदी देश के संविधान का भी अपमान कर रही हैं.
  • ममता दीदी ने पहले बंगाल को अपनी सत्ता के नशे में बर्बाद किया. अब वो बंगाल को और तबाह करने पर तुल गयी हैं अपनी सत्ता जाने के डर से. उन्हें मां-माटी-मानुष की नहीं, सिर्फ और सिर्फ अपने हितों, अपनी कुर्सी, अपने रिश्तेदारों, अपने भतीजे, और अपने टोलाबाजों की परवाह है.
  • दीदी अपने देश के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानने के लिए तैयार नहीं हैं. लेकिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को, प्रधानमंत्री मानने में उन्हें गौरव का अनुभव होता है.
  • जब पश्चिम बंगाल में समुद्री तूफान आया, तो मैंने दीदी को दो-दो बार फोन किया, लेकिन उनका अहंकार इतना है कि उन्होंने देश के प्रधानमंत्री से बात करना उचित नहीं समझा.
  • यहां तक की भारत सरकार यहां के अफसरों के साथ बैठक करके राज्य की मदद करना चाहती थी लेकिन दीदी ने उस मीटिंग को भी करने से भी इनकार कर दिया.
  • आज स्थिति ये है कि यहां की मुख्यमंत्री तो दीदी हैं, लेकिन वो पीछे रहकर कैसे कैसों की दादागिरी और हुकूमत चलवा रही है. नाम का शासन तो TMC रखा है लेकिन कारोबार दीदी के ‘जगाई-मथाई’ चला रहे हैं.
  • दीदी को उन काली भक्तों, सरस्वती भक्तों, दुर्गा भक्तों और राम भक्तों के गुस्से की चिंता करनी चाहिए, जिनको पूजा भी डर-डर कर करनी पड़ती है.
  • दीदी के दिल में घुसपैठियों के लिए और विदेशी कलाकारों के लिए ममता है. लेकिन हमारे आदिवासी युवा, हमारे सपूत जो राष्ट्र रक्षा में अपनी भूमिका निभा रहे हैं, उनके लिए कोई ममता नहीं है.
  • जब हमारे वीर सपूतों ने पाकिस्तान के आतंकियों को घर में घुसकर मारा, तो दीदी ने आतंकियों की लाशें दिखाने की मांग की. जब पूरा देश सर्जिकल स्ट्राइक डे मना रहा था, तो पश्चिम बंगाल की सरकार ने ऐसा करने से इनकार कर दिया.
  • आपके इस सेवक ने गरीबों को हर वर्ष 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की व्यवस्था की है. आयुष्मान भारत योजना से आपका इलाज भी मुफ्त में हो सकता था, लेकिन स्पीड ब्रेकर दीदी ने इस पर भी रोक लगा दी. ऐसी असंवेदनशील मानसिकता को उखाड़ फेंकना जरूरी है.

ये भी पढ़ें: RSS वाले हिंदू नहीं, वो वेदों को नहीं मानते- शंकराचार्य

ये भी पढ़ें: ‘युद्धपोत INS विराट को टैक्सी बना दिया’, जानिए पीएम मोदी ने राजीव गांधी के किस टूर की बात कही

पीएम मोदी की पुरुलिया रैली की बड़ी बातें-

  • देशभर में मोदी को गाली देने का अभियान चल रहा है. महामिलावट वाले हताश हो गए हैं.
  • भाजपा का एक एक कार्यकर्ता आपके साथ है. बंगाल में गणतंत्र को गुंडातंत्र में बदला है, उनके दिन गिनती के बचें हैं.
  • आपके इस प्यार को मैं ब्याज समेत विकास करके लौटाऊंगा. 23 मई के बाद देश का संविधान सबका हिसाब करेगा.
  • बंगाल में गुडातंत्र अब गिनती के दिन ही बचा है. 3 मई को दीदी को पहला धक्का लगेगा.
  • कहते हैं, पुरुलिया जो आज सोचता है, वही कल पश्चिम बंगाल की सोच बन जाती है.

बांकुरा और पुरुलिया में राज्य की 8 सीटों समेत छठे चरण में 12 मई को मतदान होना है. बांकुरा से BJP ने डॉ. सुभाष सरकार को मैदान में उतारा है. वहीं पुरुलिया से ज्योतिर्मोय महतो को BJP ने मैदान में उतारा हैं.