‘अहंकार में दीदी ने मुझसे नहीं की बात’, बोले पीएम मोदी- बंगाल में लगता है ट्रिपल T टैक्‍स

पश्चिम बंगाल के तमलुक में रैली करते समय पीएम मोदी ने ममता बनर्जी को 'अहंकारी' बताया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (6 मई) को पश्चिम बंगाल के तमलुक में जनसभा की. यहां उन्‍होंने राज्‍य की तृणमूल कांग्रेस सरकार और सीएम ममता बनर्जी पर जमकर हमला किया. मोदी ने ‘फोनी’ तूफान को लेकर ममता पर ‘राजनीति करने’ का आरोप लगाया. उन्‍होंने कहा, “पश्चिम बंगाल की स्पीड ब्रेकर दीदी ने इस चक्रवात में भी राजनीति करने की भरपूर कोशिश की है. चक्रवात के समय मैंने ममता दीदी से फोन पर बात करने की कोशिश की थी, लेकिन दीदी का अहंकार इतना ज्यादा है कि उन्होंने बात नहीं की. मैं इंतजार करता रहा कि शायद दीदी वापस फोन करे, लेकिन उन्होंने फोन नहीं किया.”

पीएम मोदी ने आगे कहा, “मैं पश्चिम बंगाल के लोगों की चिंता में था इसलिए मैंने दोबारा फोन किया, लेकिन दीदी ने दूसरी बार भी बात नहीं की. दीदी की इस राजनीति के बीच, मैं पश्चिम बंगाल के लोगों को फिर भरोसा देता हूं कि केंद्र सरकार पूरी शक्ति से पश्चिम बंगाल की जनता के साथ खड़ी है और राहत के काम में राज्य सरकार का हर तरह से सहयोग कर रही है.

‘बंगाल में लगता है ट्रिंपल T टैक्‍स’

ममता पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि “जय श्री राम कहने वालों को दीदी अरेस्ट कर रही हैं.” उन्‍होंने कहा कि “पश्चिम बंगाल का बच्चा-बच्चा ट्रिपल T टैक्स से परिचित है. ये ट्रिपल T टैक्स है – तृणमूल तोलाबाजी टैक्स है. कॉलेज में एडमिशन हो, टीचर की भर्ती हो या ट्रांसफर हो, लोग बताते हैं कि सब जगह तृणमूल तोलाबाजी टैक्स लगता है. जगाई-मथाई, सिंडिकेट और ट्रिपल T इस कल्चर को चुनौती देने वाला आज तक कोई नहीं था. इसलिए बंगाल की परंपरा और महान संस्कृति से खिलवाड़ करने की छूट इनको मिल गई, लेकिन अब ऐसा नहीं है. भाजपा सामान्य जन की, गरीब की, किसान की, कामगार की, बेटियों की और युवाओं की आवाज बनकर खड़ी है.”

ये भी पढ़ें

‘पीएम मोदी ने पांच सालों में लिए विनाशकारी फैसले, बाहर का रास्ता दिखाना ज़रूरी’

विकास के मुद्दे पर होना चाहिए था चुनाव, लेकिन जाति,धर्म-संप्रदाय की ओर मुड़ गया, गडकरी का बयान