VIDEO: ‘जब नाश मनुज पर छाता है…’, PM मोदी को दुर्योधन बता प्रियंका ने पढ़ी कविता

प्रियंका गांधी ने कहा कि चुनाव के प्रचार में भाजपा के नेता कभी ये नहीं कहते हैं कि उन्होंने जो वादे किए थे वो पूरे किए या नहीं.

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को हरियाणा के अंबाला में एक चुनावी रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने प्रधानंत्री नरेंद्र पर जमकर हमला बोला. प्रियंका ने पीएम मोदी की तुलना दुर्योधन से की और कहा कि दुर्योधन का भी अंहकार नष्ट हुआ है, तो मोदी क्या चीज हैं. उनका घमंड भी टूटेगा और पूरी दुनिया देखेगी.

प्रियंका ने अपने भाषण में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की एक कविता जिक्र किया. उन्होंने कहा, “जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है.” इस कविता के जरिए कांग्रेस महासचिव ने पीएम मोदी पर निशाना साधा.

‘PM मोदी ने मेरे शहीद पिता का अपमान किया’
उन्होंने कहा कि ‘पीएम मोदी पाकिस्तान जाकर बिरयानी खाते हैं. मोदी ने मेरे शहीद पिता का अपमान किया है. यह चुनाव किसी एक परिवार के बारे में नहीं है, ये उन सभी परिवारों के बारे में हैं जिनकी उम्मीदें और आशाएं इस प्रधानमंत्री ने पूरी तरह तोड़ दी है.’

प्रियंका ने कहा, “चुनाव के प्रचार में भाजपा के नेता कभी ये नहीं कहते हैं कि उन्होंने जो वादे किए थे वो पूरे किए या नहीं. कभी शहीदों के नाम पर वोट मांगते हैं, तो कभी मेरे परिवार के शहीद सदस्यों का अपमान करते हैं.”

अमित शाह का पलटवार
प्रियंका के इस बयान पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पलटवार किया है. उन्होंने ट्वीट किया, “अभी-अभी प्रियंका गांधी ने मोदी जी को दुर्योधन कहा, प्रियंका जी देश की जनता 23 मई को तय कर देगी की दुर्योधन कौन है और अर्जुन कौन.”

‘जनता को गुमराह नहीं कर सकते’
उन्होंने कहा कि हमारे देश की जनता में बहुत विवेक है, यह विवेक नया नहीं है, यह सदियों पुराना विवेक है. आप देश की जनता को गुमराह नहीं कर सकते हैं. कांग्रेस ये चुनाव मुद्दों पर लड़ रही है.

प्रियंका ने अपने भाषण के शुरुआत में कहा कि ‘उन्हें लंबे भाषण की आदत नहीं है वह दिल की बात कहेंगी. नोटबंदी कर कालाधन वापस आने की बात कहकर लोगों को इन में लाइनों में लगा दिया गया, लेकिन काला धन वापस नहीं आया.’

Read Also: मानसिक संतुलन खो चुके हैं PM मोदी, इलाज की है जरूरत: भूपेश बघेल