‘प्रियंका गांधी अपने पति से ज्यादा मेरा नाम लेती हैं’, अमेठी में स्‍मृति ईरानी ने मारा ताना

अमेठी में पत्रकारों से बात करते समय स्‍मृति ईरानी ने यह बात कही.

नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश की अमेठी लोकसभा सीट पर सोमवार (6 मई) को मतदान हो रहा है. यहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की लड़ाई केंद्रीय मंत्री और भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी से है. उम्मीदवार घोषित होने के बाद से ही स्मृति लगातार अमेठी में डटी हुई हैं. उनके पक्ष में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रोडशो किया है, मुख्यमंत्री योगी सहित अनेक नेताओं ने जनसभाएं की हैं. दूसरी तरफ राहुल की ओर से कांग्रेस की स्टार प्रचारक और उनकी बहन प्रियंका गांधी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी लगातार अमेठी में प्रचार कर रहे हैं. प्रियंका ने अपने रोडशो और नुक्कड़ सभाओं में स्मृति ईरानी को बाहरी बताया है, तो स्‍मृति ईरानी ने भी प्रियंका पर पलटवार किया है.

स्‍मृति ने सोमवार को अमेठी में कहा, “पांच साल पहले प्रियंका गांधी मेरा नाम नहीं जानती थीं. अब वो मेरा नाम लेती रहती हैं. यह एक उपलब्धि है. आजकल तो वो अपने पति (रॉबर्ट वाड्रा) का नाम कम लेती हैं, मेरा नाम ज्‍यादा लेती हैं.” मई 2014 में स्‍मृति के बारे में पूछे जाने पर प्रियंका ने कहा था, “कौन?” तब स्‍मृति ने जवाब देते हुए कहा था कि “अगर आप परिवार के एक सदस्‍य द्वारा किए गए घोटाले भूल सकती हैं तो मेरा नाम कैसे याद रखेंगी?”

स्‍मृति की सक्रियता ने बढ़ाई राहुल की मुश्किल?

पिछले लोकसभा चुनाव में स्‍मृति ईरानी और राहुल गांधी को मिले वोटों का अंतर घटकर करीब एक लाख रह गया था. इस बार स्‍मृति अमेठी में और आक्रामक ढंग से प्रचार कर रही हैं. राहुल गांधी इस बार केरल की वायनाड सीट से भी चुनाव लड़ रहे हैं.

सोमवार को मतदान के दौरान अमेठी जिले की गौरीगंज विधानसभा के गूजर टोला क्षेत्र में बूथ संख्या 316 पर एक महिला मतदाता ने वहां तैनात पीठासीन अधिकारी पर कांग्रेस पार्टी के पक्ष में जबरन वोट कराने का आरोप लगाया. स्मृति ईरानी ने अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो शेयर करते हुए राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाते हुए आयोग से इसकी शिकायत की. इसके बाद पीठासीन अधिकारी को तुरंत हटा दिया गया.

ये भी पढ़ें

VIDEO: आयुष्मान कार्ड धारक का आरोप, संजय गांधी अस्पताल ने नहीं किया इलाज, अस्पताल ने दी सफाई

राहुल पर वायनाड में प्रियंका गांधी Vs स्मृति ईरानी