सिद्धू को बचपन से जानता हूं, मुझे हटाकर खुद CM बनना चाहते हैं: कैप्टन अमरिंदर सिंह

यह बात अमरिंदर सिंह ने पटियाला में वोट डालने के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कहीं.

पटियाला: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रविवार को अपने ही कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की जमकर आलोचना की और कहा कि सिद्धू सीएम बनना चाहते हैं. अमरिंदर सिंह ने सिद्धू की ओर से लगातार राज्य में पार्टी नेतृत्व और सीएम पर किए जा रहे हमलों को लेकर उनकी जमकर आलोचना की है.

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर सिद्धू सच्चे कांग्रेसी हैं तो उन्हें कुछ भी कहने के लिए सही समय चुनना चाहिए, बजाए इसके कि वे पंजाब में वोटिंग से ठीक पहले अपनी शिकायतों को हवा दें. यह बात अमरिंदर सिंह ने पटियाला में वोट डालने के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कहीं.

इसके साथ ही अमरिंदर सिंह ने सिद्धू पर आरोप लगाया कि वे प्रदेश के सीएम बनना चाहते हैं. इस पर बात करते हुए सूबे के मुख्यमंत्री ने कहा, “नवजोत सिंह सिद्धू के साथ कोई जवाबी युद्ध नहीं है. अगर वे महत्वाकांक्षी हैं, तो ठीक है, लोग होते हैं महात्वाकांक्षी. मैं उन्हें बचपन से जानता हूं. मेरा उनसे कोई मतभेद नहीं है. वे शायद सीएम बनना चाहते हैं और मुझे बदलना चाहते हैं, यही उनका व्यवसाय है.”

अमरिंदर सिंह की पत्नी और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रिनीत कौर कांग्रेस के टिकट पर पटियाला लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं. कैप्टन को पूरा विश्वास है कि वे केवल पटियाला में ही जीत नहीं दर्ज करेंगे बल्कि पंजाब की सभी 13 सीटों पर कांग्रेस क्लीन स्विप मारेगी.

हाल ही में सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पंजाब मामलों की प्रभारी आशा कुमारी के इशारे पर उन्हें अमृतसर लोकसभा सीट से टिकट नहीं दिया जाने का आरोप लगाया था. इसके बाद अमरिंदर सिंह ने कहा था कि उन्होंने सिद्धू की पत्नी को अमृतसर और बठिंडा से टिकट ऑफर की गई थी, लेकिन उन्होंने इसके लिए मना कर दिया था.

पत्नी के दावों पर उठते सवालों पर नवजोत सिंह सिद्धू खुलकर अपनी पत्नी का बचाव किया और कहा था कि “मेरी पत्नी झूठ नहीं बोलती है.”

 

ये भी पढ़ें-      मेरी पत्नी झूठ नहीं बोलती, कांग्रेस के टिकट न देने वाले नवजोत कौर के दावे पर बोले सिद्धू

चंडीगढ़ में मतदान से पहले BJP उम्मीदवार किरण खेर का पैर हुआ स्लिप